लाइव टीवी

ICICI बैंक की बड़ी कामयाबी! जारी किए 2 मिलियन फ़ास्टटैग, ऐसे करने वाला सबसे बड़ा बैंक

News18Hindi
Updated: October 31, 2019, 3:51 PM IST
ICICI बैंक की बड़ी कामयाबी! जारी किए 2 मिलियन फ़ास्टटैग, ऐसे करने वाला सबसे बड़ा बैंक
फास्टैग वाहन चालकों के लिए राह सुविधाजनक बनाता

आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने जारी किए 2 मिलियन फास्टैग (FastTag), हासिल की देश में सबसे ज्यादा फास्टैग जारी करने की उपलब्धि. अगले छह महीनों में दोगुने फास्टैग जारी करने का लक्ष्य रखा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2019, 3:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने आज घोषणा की कि उसने अब तक 2 मिलियन फास्टैग (FastTag) जारी किए हैं और इस तरह बैंक देश का अकेला ऐसा वित्तीय संस्थान बन गया है, जिसने यह महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है. फास्टैग एक ब्रांड नाम है जिसका स्वामित्व भारतीय राजमार्ग प्रबंधन कंपनी लिमिटेड (आईएचएमसीएल) के पास है, जो इलेक्ट्रॉनिक टोलिंग और एनएचएआई की अन्य सहायक परियोजनाओं का संचालन करता है. यह रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन डिवाइस (आरएफआईडी) टैग वाहन के वाइड स्क्रीन पर चिपकाया जाता है.

टोल प्लाजा पर भीड़ भरे माहौल के बीच फास्टैग वाहन चालकों के लिए राह सुविधाजनक बनाता है, क्योंकि इसका इस्तेमाल करने वाले चालकों को शुल्क अदा करने के लिए रुकने की जरूरत नहीं होती, जिससे उनका समय बचता है. फैस्टैग की बढ़ती लोकप्रियता और सरकार की पहल के कारण ही हम 2 मिलियन टैग जारी करने की उपलब्धि हासिल करने में कामयाब हो सके हैं. देश का कुल टोल बाजार अनुमानित रूप से सालाना लगभग 20,000 करोड़ रुपये का है. इसमें से लगभग 30 प्रतिशत हिस्सा ईटीसी प्लेटफॉर्म के माध्यम से एकत्र किया जा रहा है, यह दर्शाता है कि इस महत्वपूर्ण भुगतान क्षेत्र में डिजिटलीकरण को और आगे ले जाने का एक बड़ा अवसर मौजूद है.

भारत को सऊदी अरब ने दिया दिवाली गिफ्ट, नहीं महंगा होगा भारत में पेट्रोल-डीजल

सभी टोल प्लाजाओं के लिए फास्टैग को अनिवार्य बनाने के वर्तमान आदेश के साथ, हम अगले छह महीनों में अपने पोर्टफोलियो को दोगुना करते हुए 4 मिलियन तक ले जाने का लक्ष्य रखते हैं. हम ईटीसी प्रोग्राम के तहत नए राजमार्गों को भी शामिल कर रहे हैं - हाल ही में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे और हैदराबाद आउटर रिंग रोड को इसमें शामिल किया गया है. इसके अतिरिक्त, हम विभिन्न साझेदारों के साथ सहयोग कर रहे हैं ताकि हवाई अड्डे और मॉल में पार्किंग के लिए भी फास्टैग के माध्यम से भुगतान किया जा सके. फास्टैग की उपलब्धता बढ़ाने के लिए प्रमुख ई-कॉमर्स पोर्टल्स के साथ साझेदारी करने की भी योजना बना रहे हैं.

बैंक ने हजारों वाहन मालिकों और और बड़े राज्य परिवहन संगठनों से भी टाई-अप किया है. बैंक फास्टैग के उपयोग के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए नामक्कल, वारंगल, गांधीधाम, वापी, दिल्ली, मानेसर, जेएनपीटी, हुबली और कानपुर जैसे विभिन्न परिवहन केंद्रों पर सीधे बड़े ऑपरेटरों के पास पहुंच रहा है. ग्राहक बैंक की वेबसाइट और मोबाइल बैंकिंग ऐप से एक नया फास्टैग खरीद सकते हैं, और बैंक के इंटरनेट बैंकिंग, यूपीआई और एनईएफटी प्लेटफार्मों का उपयोग करके टैग को डिजिटल रूप से लोड कर सकते हैं.

भारत के साथ दोस्ती बढ़ाने के लिए पाकिस्तान ने अब अपनाया नया रुख, उठाया ये कदम!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 3:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...