ICICI बैंक- ग्राहकों को लोन की EMI पर छूट पाने के लिए हर महीने बैंक को बताना होगा, जानिए शर्तें

ICICI बैंक- ग्राहकों को लोन की EMI पर छूट पाने के लिए हर महीने बैंक को बताना होगा, जानिए शर्तें
अगस्त तक लोन की EMI चुकाने की मिली छूट

ICICI बैंक ने ग्राहकों को ईएमआई( EMI) से राहत देते हुए 31 अगस्त तक लोन मोरेटोरियम की अवधि को बढ़ा दिया है. ग्राहकों को टर्म लोने की EMI और क्रेडिट कार्ड बिल के भुगतान के लिए अब तीन महीने के मोहलत मिल गई है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. देश का बड़ा प्राइवेट बैंक आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) ने अपने ग्राहकों बड़ी राहत दी है. ICICI बैंक ने ग्राहकों को ईएमआई( EMI) से राहत देते हुए 31 अगस्त तक लोन मोरेटोरियम की अवधि को बढ़ा दिया है. लेकिन ग्राहकों को इसका फायदा उठाने के लिए हर महीने अपने बैंको को बताना होगा. ग्राहकों को टर्म लोन की EMI और क्रेडिट कार्ड बिल के भुगतान के लिए अब तीन महीने के मोहलत मिल गई है. बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पिछले महीने लोन मोरेटोरियम की अवधि को 3 महीने और बढ़ा दिया था. बैंक मोरेटोरियम पीरियड के बाद इन 6 महीनों का ब्याज बाद वसूलेंगे.

इनको मिलेगी मोरेटोरियम की सुविधा
ICICI बैंक के अनुसार एक मार्च, 2020 से पहले किसी भी तरह का रिटेल लोन (होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन) लेने वाले कस्टमर फायदा ले पाएंगे. मोरेटोरियम का आवदेन अपने ईएमआई/पेमेंट ड्यू डेट से कम से कम 5 दिन पहले करने की जरूरत है.

हर महीने देनी होगी जानकारी- ICICI बैंक की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि मार्च से मई तक मोराटोरियम लेने वालों को भी नए सिरे से आवेदन करना होगा.







मोराटोरियम का विकल्प चुनना चाहते हैं तो फिलहाल एक माह के लिए इसका चुनाव कर सकते है. अगर आसान शब्दों में कहें तो पहले पहले आपको जून महीने के लिए बैंक में आवेदन करना होगा. इसके बाद जुलाई और अगस्त के लिए अलग से बैंक को रिक्वेस्ट भेजनी होगी.जून 2020 के लिए मोरेटोरियम का आवदेन 24 जून के पहले तक कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में अपने SBI ATM कार्ड को करें बंद और चालू, आपके पैसे रहेंगे सेफ

कहां करना होगा अप्लाई?
लोन मोरेटोरियम के लिए अप्लाई बैंक की वेबसाइट पर जाकर किया जा सकता है. बैंक की वेबसाइट पर जाकर आपको मोरेटोरियम ऑप्ट करने का विकल्प चुनना होगा. मोरेटोरियम को ऑप्ट नहीं करना चाहते हैं तो आपको कुछ भी करने की जरूरत नहीं है. ड्यू डेट पर अकाउंट से ईएमआई की राशि कट जाएगी.

आप ले सकते हैं ये तीन ऑप्शन

ऑप्शन नंबर-1 पहले विकल्प में कहा गया है कि मोरेटोरियम पीरियड में किस्त नहीं देने पर जो ब्याज बनता है, जून में उसका एकमुश्त भुगतान किया जाए.

ऑप्शन नंबर-2 इस दौरान जो भी ब्याज बने, उसे लोन की बाकी रकम में जोड़ दिया जाए. और उसे बची हुई ईएमआई में बराबर बांट दिया जाए. अगर आसान शब्दों में कहें तो आपने करीब 29 लाख रुपये का लोन 20 साल के लिए लिया है. इस पर हर महीने की ईएमआई 25225 रुपये के करीब होती है. अब तक आप 12 किस्त चुका चुके हैं और 228 किस्तें बाकी हैं.

ये भी पढ़ें- PNB में सेविंग अकाउंट खुलवाने वाले करोड़ों ग्राहकों को लगा झटका!

अब अगर आप मोरेटोरियम का विकल्प चुनकर 3 माह ईएमआई टालते हैं तो 3 महीने बाद आपकी ईएमआई 25225 की जगह 25650 रुपये के करीब हो जाएगी. यहां आपकी ईएमआई की बची अवधि 228 ही रहेगी.

ऑप्शन नंबर-3 ईएमआई को न बदला जाए लेकिन लोन की अवधि बढ़ा दी जाए. अगर आसान शब्दों में कहें तो आपने करीब 29 लाख रुपये का लोन 20 साल के लिए लिया है. इस पर हर महीने की ईएमआई 25225 रुपये के करीब होती है. अब तक आप 12 किस्त चुका चुके हैं और 228 किस्तें बाकी हैं.

अब अगर आप मोरेटोरियम का विकल्प चुनकर 3 माह ईएमआई टालते हैं तो 3 महीने बाद आपकी ईएमआई 25225 की जगह 25650 रुपये के करीब हो जाएगी. यहां आपकी ईएमआई की बची अवधि की जगह 238 हो जाएगी. यानी आप पर 7 ईएमआई का अतिरिक्त बोझ बढ़ जाएगा. या ऐसे समझ लें कि आपकी ईएमआई की अवधि 10 महीने बढ़ा दी जाएगी.

ऑप्शन-4 आप पहले की तरह सामान्य तौर पर ईएमआई कटने दें.
First published: June 3, 2020, 7:09 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading