आपको भरना है इनकम टैक्स रिटर्न! तो जानिए किन दस्तावेजों की पड़ेगी जरूरत

ITR भरने के लिए कई अहम दस्तावेजों की जरूरत पड़ती हैं.
ITR भरने के लिए कई अहम दस्तावेजों की जरूरत पड़ती हैं.

ITR फाइलिंग में देरी के लिए 5000 रूपये लेट फीस (Late fees) का प्रावधान किया गया है. इनकम टैक्स और ITR फाइल एक सतत प्रक्रिया है जो हर साल होती है. लोन लेने और अन्य बैंकिंग कामों (Banking works) के लिए ITR दस्तावेज मांगे जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 14, 2020, 12:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में हर करदाता को इनकम टैक्स देना अहम है और हर सैलरी वाले इंसान को इनकम टैक्स रिटर्न भरना जरूरी है, भले ही आप टैक्स स्लैब के अंदर नहीं आते. यह (ITR) कार लोन और होम लोन के समय आवेदन करते समय काम आने वाले एक अहम दस्तावेज है. हालांकि ITR फाइल करना एक थकाऊ प्रोसेस लगता है लेकिन सभी जरूरी दस्तावेजों के साथ इसे आसान बनाया जा सकता है.

इनकम टैक्स भरने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई है:
फॉर्म 16
बैंक और पोस्ट ऑफिस से ब्याज का प्रमाण पत्र
फॉर्म 26AS
टैक्स बचाने के लिए इन्वेस्टमेंट प्रूफ


आधार कार्ड
घर के लोन का स्टेटमेंट
PAN कार्ड
सैलरी स्लिप
सेक्शन 80D और 80U के अंतर्गत क्लेम करने के लिए प्रूफ
इनकम टैक्स रिटर्न किसे भरना चाहिए?
टैक्सेबल आय वाले रजिस्टर्ड टैक्स पेयर्स को इनकम टैक्स रिटर्न भरना चाहिए.
2020 में रिटर्न भरने की अंतिम तिथि
कोरोना वायरस के कारण इस साल सरकार ने टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई से बढ़ाते हुए 30 नवम्बर तक कर दी है जिसमें 2019-20 वित्त वर्ष शामिल है.
टैक्स डिडक्शन रिर्टन के लिए क्या दस्तावेज चाहिए?
PAN कार्ड
टैक्स भुगतान चालान (सेल्फ असेसमेंट, अडवांस टैक्स)
TDS सर्टिफिकेट (अगर किसी ने आपका TDS काटा हो)
फॉर्म 16 और कम्पनी से प्रदत्त सैलरी स्लिप
फॉर्म 26AS
पूंजी लाभ प्रमाण दस्तावेज
इंटरेस्ट इनकम सर्टिफिकेट
सेक्शन 80 इन्वेस्टमेंट प्रूफ

यह भी पढ़ें: डिजिटल इंडिया में बढ़े बैंकिंग फ्रॉड के मामले, इनसे बचने के लिए बैंक अपनाएं ये हथकंडे

अगर मैं ITR फाइल नहीं करूं तो क्या?
अगर सम्बंधित वित्त वर्ष का इनकम टैक्स रिटर्न नियत तिथि तक फाइल नहीं किया जाए, तो ITR फाइलिंग में देरी के लिए 5000 रूपये लेट फीस का प्रावधान किया गया है. इनकम टैक्स और ITR फाइल एक सतत प्रक्रिया है जो हर साल होती है. लोन लेने और अन्य बैंकिंग कामों के लिए ITR दस्तावेज मांगे जाते हैं इसलिए यह एक जरूरी दस्तावेज बन गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज