खुशखबरी! लॉकडाउन में समय पर चुकाई EMI, तो आपके खाते में आएंगे पैसे, सरकार ने दी जानकारी

समय पर EMI चुकाने वाले ग्राहकों को मिलेगा कैशबैक
समय पर EMI चुकाने वाले ग्राहकों को मिलेगा कैशबैक

सरकार ने कहा है कि लोन लेने वाले जिन भी ग्राहकों ने मोराटोरियम सुविधा का फायदा नहीं लिया और समय पर EMI का पेमेंट किया है. उन्हें कैशबैक मिलेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 1:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: क्या आपने भी लॉकडाउन में लोन मोराटोरियम (Loan moratorium) सुविधा का फायदा नहीं लिया और अपनी सभी किश्ते चुकाई. तो दिवाली से पहले आपके खाते में सरकार पैसे ट्रांसफर करेगी. लॉकडाउन में समय पर लोन चुकाने वाले ग्राहकों को केंद्र सरकार की ओर से ये ऑफर दिया जा रहा है. केंद्र सरकार ने लोन मोराटोरियम के दौरान ब्याज पर ब्याज को लेकर अपने फैसले के बारे में पूरी जानकारी देते हुए ये बात कही. केंद्र की मोदी सरकार ने ये ऐलान किया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि जिन्होंने समय पर EMI भरा है, उनको ब्याज पर ब्याज के हिसाब से कॅश बैक मिलेगा. जो EMI समय पर नहीं दे सके, उनके ब्याज पर ब्याज सरकार भरेगी.

किन लोगों को मिलेगा कैशबैक?
सरकार ने कहा है कि लोन लेने वाले जिन भी ग्राहकों ने मोराटोरियम सुविधा का फायदा नहीं लिया और समय पर EMI का पेमेंट किया ऐसे लोगों को कैशबैक मिलेगा. इस स्कीम के तहत ऐसे कर्जदारों को 6 महीने के सिंपल और कम्पाउंड इंट्रेस्ट में डिफरेंस का लाभ मिलेगा.

यह भी पढ़ें: IndusInd Bank को खरीद सकता है कोटक महिंद्रा, जानिए क्या होगा ग्राहकों पर असर
प्रकाश जावड़ेकर ने किया ट्वीट


केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस बारे में ट्वीट करते हुए बताया उन्होंने ट्वीट में लिखा कि जिन्होंने समय पर EMI भरी है, उनको ब्याज पर ब्याज के हिसाब से कैश बैक मिलेगा. इसके अलावा जो EMI समय पर नहीं दे सके, उनके ब्याज पर ब्याज सरकार भरेगी.


सभी तरह के लोन लेने वालों को मिलेगा फायदा
इस योजना के तहत होम लोन, एजुकेशन लोन, क्रेडिट कार्ड का बकाया, वीइकल लोन, MSME लोन, कंज्यूमर ड्यूरेबल लोन के धारकों को लाभ मिलेगा.

RBI ने दी थी 6 महीने के लिए लोन मोरेटोरियम की सुविधा
आपको बता दें कोरोना महामारी के बीच RBI ने ग्राहकों को 6 महीने के लिए लोन मोरेटोरियम की सुविधा दी थी. महामारी के समय में जो भी लोग EMI का पेमेंट करने में असमर्थ थे उन सभी ने इस सुविधा का लाभ लिया था.

31 मार्च तक ग्राहकों को मिली थी ये सुविधा
बता दें ग्राहकों को 1 मार्च से लेकर 31 अगस्त तक के लिए यह सुविधा दी गई थी. इस सुविधा के बाद में मोराटोरियम पीरियड के दौरान ब्याज पर ब्याज का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा और सरकार ने कहा कि कर्जदारों को ब्याज पर ब्याज नहीं भरना होगा. इससे सरकारी खजाने पर करीब 7000 करोड़ का असर होगा.

यह भी पढ़ें: आम आदमी को मिली बड़ी राहत! 10 रुपए किलो तक सस्ता हुआ प्याज, चेक करें आज क्या है 1 किलो का रेट

मिलेगी ब्याज पर ब्याज की छूट
आपको बता दें सरकार ने 2 करोड़ रुपए तक लोन लेने वाले ग्राहकों को लोन मोराटोरियम की सुविधा का फायदा दिया था. सरकार के मुताबिक 6 महीने के लोन मोराटोरियम समय में दो करोड़ रुपए तक के लोन के ब्याज पर ब्याज की छूट देगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज