3 मार्च को लॉन्च होगा IIFL Finance का बॉन्ड, 1000 करोड़ जुटाने की तैयारी, ग्राहकों को होगा ये बड़ा फायदा

3 मार्च को आएगा IIFL Finance का बॉन्ड

3 मार्च को आएगा IIFL Finance का बॉन्ड

भारत की सबसे बड़ी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों में से एक आईआईएफएल फाइनेंस (Non-bank lender IIFL Finance) ने शुक्रवार को कहा कि वह अपने पूंजी आधार को बढ़ाने के लिए अगले सप्ताह 1000 करोड़ रुपये का सार्वजनिक बॉन्ड इश्यू बाजार (public issue of bonds) उतारेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 10:50 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत की सबसे बड़ी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों में से एक आईआईएफएल फाइनेंस (Non-bank lender IIFL Finance) ने शुक्रवार को कहा कि वह अपने पूंजी आधार को बढ़ाने के लिए अगले सप्ताह 1000 करोड़ रुपये का सार्वजनिक बॉन्ड इश्यू बाजार (public issue of bonds) उतारेगी. 3 मार्च 2021 को जारी होने वाले बॉन्ड के तहत उच्च स्तर की सुरक्षा के साथ 10.03 प्रतिशत तक रिटर्न की पेशकश की गई है. फेयरफैक्स और सीडीसी समूह की मदद से आईआईएफएल फाइनेंस अनसिक्योर्ड रिडीमेबल नॉन कन्वर्टिबल डिबेंचर्स ( non-convertible debentures- NCDs) जारी करेगी.

10.03 प्रतिशत तक उच्चतक रिटर्न की पेशकश
कंपनी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि फेयरफैक्स और सीडीसी ग्रुप समर्थित आईआईएफएल फाइनेंस 100 करोड़ रुपए के असुरक्षित रिडीमेबल गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर (एनसीडी) जारी करेगा, जिसमें 900 करोड़ रुपए तक का ओवर-सब्सक्रिप्शन रहेगा और इस तरह कुल 1,000 करोड़ रुपए जुटाए जाएंगे. 87 महीने की अवधि वाले आईआईएफएल फाइनेंस के बॉन्ड में 10.03 प्रतिशत तक उच्चतक रिटर्न की पेशकश की गई है.

ये भी पढ़ें- SBI ने 44 करोड़ ग्राहकों को किया अलर्ट! भूलकर भी ना करें ये काम, वरना खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट
IIFL Finance का यह बॉन्ड 3 मार्च को खुलेगा


IIFL Finance का यह सार्वजनिक बॉन्ड इश्यू 3 मार्च 2021 को खुलेगा और 23 मार्च को बंद होगा. कंपनी ने कहा है कि उसके बॉन्ड मासिक, सालाना और मैच्योरिटी के समय ब्याज भुगतान के विकल्प के साथ उपलब्ध हैं. सार्वजनिक बॉन्ड इश्यू के लीड मैनेजर्स Edelweiss Financial Services, IIFL Securities और Equirus Capital हैं. बता दें कि वर्तमान में अन्य लोन प्रोडक्ट की तुलना में आईआईएफएल फाइनेंस के बॉन्ड मिलने वाली ब्याज दर बहुत आकर्षक है.लिक्विड फंड्स का रिटर्न औसतन 2.8-3 प्रतिशत रहता है, जबकि अल्ट्रा-शॉर्ट-टर्म फंड्स औसतन 3-3.5 प्रतिशत रिटर्न की पेशकश करते हैं.शाॅर्ट टर्म फंड औसतन 4-4.25 फीसदी रिटर्न देते है,जबकि बैंक वर्तमान में 3 साल की सावधि जमा के लिए लगभग 5.1 प्रतिशत का ब्याज दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें- BACKSTORY: एक रिफ्यूजी की कहानी जो बना भारत का सबसे मशहूर मसाला किंग, पढ़ें दिलचस्प स्टोरी

जानिए क्या कहा कंपनी ने? 
आईआईएफएल फाइनेंस की पूरे भारत में 2500 ब्रांच आईआईएफएल फाइनेंस के सीएफओ राजेश रजक ने कहा कि पूरे भारत में 2500 शाखाओं की एक मजबूत मौजूदगी और एक बेहतर और Diversifiedरिटेल पोर्टफोलियो के माध्यम से आईआईएफएल फाइनेंस ऐसे लोगों की क्रेडिट संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करता है, जिन्हें इस तरह की बहुत कम सुविधाएं हासिल हैं. बाॅन्ड के जरिए जुटाए गए धन का उपयोग ग्राहकों की क्रेडिट संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए किया जाएगा. साथ ही हमारे डिजिटल प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए किया जाएगा, ताकि ग्राहकों को एक बेहतर अनुभव प्रदान किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज