IMF ने घटाया वैश्विक अर्थव्यवस्था का अनुमान, अमेरिका की GDP 8 फीसदी घटेगी

आईएमएफ ने इस साल वैश्विक वृद्धि के दो महीने पहले लगाए गए अनुमान में काफी कमी कर दी है.
आईएमएफ ने इस साल वैश्विक वृद्धि के दो महीने पहले लगाए गए अनुमान में काफी कमी कर दी है.

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की ओर से जारी अनुमान के मुताबिक, वैश्विक अर्थव्यवस्था (Global Economy) में इस साल 4.9 फीसदी की कमी होगी. अप्रैल में जारी अपनी पिछली रिपोर्ट में आईएमएफ ने 3 फीसदी कमी का अनुमान जताया था.

  • Share this:
वाशिंगटन. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने कोविड-19 महामारी के कारण वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था (Global Economy) को तगड़े नुकसान का अनुमान लगाया था. अब आईएमएफ ने कहा है कि वैश्विक महामारी (Pandemic) से होने वाला वास्‍तविक नुकसान उसके दो महीने पहले लगाए गए अनुमान से कहीं ज्‍यादा गंभीर हो सकता है. साथ ही आईएमएफ ने इस साल वैश्विक वृद्धि (Global Economic Growth) के पहले लगाए गए अनुमान में काफी कमी कर दी है.

ये भी पढ़ें- छोटे कारोबारियों के लिए केंद्र सरकार ने शुरू की 20,000 करोड़ रुपये की कर्ज गारंटी योजना

वर्ल्‍ड वार-2 के बाद सबसे ज्‍यादा सालाना गिरावट
आईएमएफ की ओर से बुधवार को जारी अनुमानों के मुताबिक, वैश्विक अर्थव्यवस्था में इस साल 4.9 फीसदी की कमी होगी. हालांकि, अप्रैल में जारी अपनी पिछली रिपोर्ट में आईएमएफ ने 3 फीसदी कमी का अनुमान जताया था. बता दें कि दूसरे विश्व युद्ध (World War-2) के बाद आर्थिक वृद्धि (Economic Growth) में यह सबसे ज्‍यादा सालाना गिरावट होगी.
ये भी पढ़ें- प्रतिस्‍पर्धा आयोग ने फेसबुक को जियो प्‍लेटफॉर्म में 9.99 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदने की मंजूरी दी



कम आय वालों को महामारी से तगड़ा नुकसान
इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड का अनुमान है कि इस साल अमेरिका (US) का सकल घरेलू उत्‍पाद (GDP) 8 प्रतिशत घट जाएगा. बता दें कि अंतराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष ने अप्रैल में 5.9 फीसदी कमी का अनुमान जताया था. आईएमएफ ने कहा कि वैश्विक महामारी कम आय वाले परिवारों (Low Income Households) को बहुत बुरी तरह से नुकसान पहुंचा रही है. इससे गरीबी (Poverty) को कम करने की सरकारों की कोशिशों को तगड़ा झटका लगेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज