• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • सरकार ने इन सामानों पर बढ़ाई इंपोर्ट ड्यूटी, 16 दिन में दूसरी बार किया ऐसा

सरकार ने इन सामानों पर बढ़ाई इंपोर्ट ड्यूटी, 16 दिन में दूसरी बार किया ऐसा

यह दूसरी बार है जब सरकार ने आयात शुल्क बढ़ाया है. इससे पहले 26 सितंबर को घरेलू रेफ्रिजरेटरों और एअर कंडीशनरों सहित 19 वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाया गया था.

यह दूसरी बार है जब सरकार ने आयात शुल्क बढ़ाया है. इससे पहले 26 सितंबर को घरेलू रेफ्रिजरेटरों और एअर कंडीशनरों सहित 19 वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाया गया था.

यह दूसरी बार है जब सरकार ने आयात शुल्क बढ़ाया है. इससे पहले 26 सितंबर को घरेलू रेफ्रिजरेटरों और एअर कंडीशनरों सहित 19 वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाया गया था.

  • Share this:
    सरकार ने गुरुवार को बेस स्टेशन और डिजिटल लाइन प्रणाली सहित चुनिंदा संचार उपकरणों पर आयात शुल्क बढ़ाकर 20 प्रतिशत कर दिया. यह दूसरी बार है जब सरकार ने आयात शुल्क बढ़ाया है. इससे पहले 26 सितंबर को घरेलू रेफ्रिजरेटरों और एअर कंडीशनरों सहित 19 वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाया गया था.

    सरकार ने चालू खाते के घाटे को बढ़ने से रोकने के लिए गैर जरूरी आयात में कमी लाने की घोषणा की थी. केंद्रीय उत्पाद एवं सीमाशुल्क बोर्ड ने एक अधिसूचना में कहा कि आयात शुल्क में बढ़ोत्तरी 12 अक्टूबर से प्रभाव में आ जाएगी.

    बोर्ड की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि केंद्र सरकार का यह मानना है कि कस्‍टम टैरिफ एक्‍ट 1975 के चैप्‍टर 85 के तहत आने वाले सामान पर आयात शुल्‍क बढ़ाया जाना चाहिए और अभी के हालात इस पर फौरन कदम उठाने के लिए जायज है.

    चैप्‍टर 85 के तहत बिजली की मशीनें और सामान, साउंड रिकॉर्डर, टेलीविजन इमेज रिकॉर्ड और उनके पार्ट आते हैं. अभी तक इन सामानों पर 10 प्रतिशत इंपोर्ट ड्यूटी लगती थी.

    इससे पहले गुरुवार को वित्‍त मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा था कि वर्तमान चालू घाटा को नियंत्रण में रखने के लिए कई कदम उठाए जाएंगे. उन्‍होंने कहा, 'रुपया, देनदारियों में संतुलन और वर्तमान चालू घाटा सबसे बड़ी चिंता है और इनके लिए रणनीति है. इन मसलों पर हम तय समय पर कदम उठाएंगे.' बता दें कि वित्‍तीय वर्ष के 2018-19 की पहली तिमाही में वर्तमान चालू घाटा जीडीपी का 2.4 प्रतिशत हो गया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज