PF अकाउंट के साथ अभी तक अटैच नहीं की ये जानकारी तो आप पर पड़ेगा भारी

EPFO के 50 फीसदी से अधिक सदस्यों के यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) के साथ 'नो योर कस्टमर' (KYC) डीटेल अटैच नहीं है. इसकी वजह से उन्हें इन परेशानियों का सामना करना होगा.

News18Hindi
Updated: September 16, 2018, 10:46 AM IST
PF अकाउंट के साथ अभी तक अटैच नहीं की ये जानकारी तो आप पर पड़ेगा भारी
EPFO के 50 फीसदी से अधिक सदस्यों के यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) के साथ 'नो योर कस्टमर' (KYC) डीटेल अटैच नहीं है. इसकी वजह से उन्हें इन परेशानियों का सामना करना होगा.
News18Hindi
Updated: September 16, 2018, 10:46 AM IST
EPFO के 50 फीसदी से अधिक सदस्यों के यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) के साथ 'नो योर कस्टमर' (KYC) डीटेल अटैच नहीं है. इसकी वजह से इन खाताधारकों को ऑनलाइन सुविधाओं का लाभ नहीं मिल रहा है. हालांकि सरकार ने ईपीएफओ के दायरे में आने वाली कंपनियों और संस्थानों से पीएफ अंशधारकों को यूएएन और केवाईसी के मिलान को 100 प्रतिशत पूरा करने के निर्देश दिया है. इसमें कहा गया है कि केवाइसी की सूचनाओं को यूएएन से जोड़ना अनिवार्य है. बता दें कि ऐसा न करना एक दंडनीय अपराध होगा.

तेज और सरल सुविधाएं देने के लिए EPFO ने 2014 में सभी सदस्यों को 12 अंकों वाले UAN देने की शुरुआत की थी. भविष्य निधि से जुड़ी सेवाओं के लिए UAN बहुत महत्वपूर्ण है.

समझदारी से यूज़ करें बैंक सर्विसेज़, वरना हो जाएगा हजारों रुपए का नुकसान



इसका सही लाभ KYC सीडिंग के बाद मिलता है. यानी आधार, बैंक अकाउंट, पैन और मोबाइल नंबर UAN के साथ जुड़ा हो. यदि KYC डीटेल्स UAN के साथ दर्ज हो तो सदस्य अपने मोबाइल के जरिए PF खाते की त्वरित जानकारी ले सकते हैं और ऑनलाइन दावा भी फाइल कर सकते हैं.

दिल्ली स्थित रीजनल ऑफिस ने अब इस काम की शुरुआत मिशन मोड में की है और सभी संगठनों को लेटर, ई-मेल और SMS के जरिए सूचना दी गई है. 9 हजार प्रतिष्ठानों को हर दिन मेसेज भेजा जा रहा है. इसके लिए एक विशेष सेल का गठन भी किया गया है.

PF अकाउंट से जुड़े ये हैं 7 बड़े फायदे, मुफ्त में ले सकते हैं इनका लाभ
Loading...
रीजनल PF कमिश्नर निधि सिंह ने कहा कि UAN के साथ KYC लिंकिंग अनिवार्य है और इसे ना मानने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर