अपना शहर चुनें

States

Electric vehicle: जल्द आपके शहर में ओपन होगा इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन, चेक करें क्या होंगे रेट्स

2877 चार्जिंग स्टेशन होंगे ओपन
2877 चार्जिंग स्टेशन होंगे ओपन

दूसरे चरण के लिए 25 राज्यों में 2877 चार्जिंग स्टेशन (Charging Station) खोले जाने हैं. किस राज्य में कितने स्टेशन खोले जाएंगे इसकी लिस्ट भी जारी कर दी गई है. सरकार ने लोकसभा (Lok Sabha) में जानकारी देते हुए कहा है कि दूसरे चरण के सभी चार्जिंग स्टेशन पर 500 करोड़ रुपये का खर्च आएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2021, 4:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: दूसरे चरण में भी इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric vehicle) को चार्ज करने के लिए कई राज्यों में स्टेशन बनाए जा रहे हैं. दूसरे चरण के लिए 25 राज्यों में 2877 चार्जिंग स्टेशन (Charging Station) खोले जाने हैं. किस राज्य में कितने स्टेशन खोले जाएंगे इसकी लिस्ट भी जारी कर दी गई है. सरकार ने लोकसभा (Lok Sabha) में जानकारी देते हुए कहा है कि दूसरे चरण के सभी चार्जिंग स्टेशन पर 500 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. यहां 10 हजार किलोवाट की क्षमता वाले चार्जिंग स्टेशन से सभी ई-दुपहिया, तिपाहिया और चौपहिया वाहनों को चार्ज किया जाएगा.

दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के मुताबिक, इलेक्ट्रिक वाहनों के 100 से ज्यादा मॉडल को दिल्ली सरकार स्वीकृत कर चुकी है. अभी तक 36 निर्माताओं ने इलेक्ट्रिक व्हीकल नीति के तहत खुद पंजीकृत कर लिया है. पूरे नेटवर्क में 98 डीलर जुड़ चुके हैं. दिल्ली सरकार की तरफ से स्वीकृत 100 मॉडल में 14 दो पहिया वाहन, ई रिक्शा के 45 मॉडल और चार पहिया वाहनों के मॉडल 12 हैं.

यह भी पढ़ें: Noida के सेक्टर-18 में बनेगा कनॉट प्लेस, 31 मार्च तक हो सकता है शुरू, जानें क्या है अथॉरिटी का प्लान



किस राज्य में खुले रहे हैं कितने चार्जिंग स्टेशन
सरकार की ओर से लोकसभा में दी गई जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र में 317, केरल 211, गुजरात 278, आंध्रा प्रदेश 266, कर्नाटक 172, मध्य प्रदेश 235, राजस्थान 205, यूपी 207, तमिलनाडु 281, पश्चिम बंगाल 141, दिल्ली में 72, बिहार 37 और चंडीगढ़ में 70 चार्जिंग स्टेशन समेत 25 राज्यों में 2877 स्टेशन खोले जा रहे हैं. सरकार की ओर से सभी स्टेशन पर 500 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं.

एलटी और एचटी के हिसाब से ऐसे तय होंगे रेट
दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के मुताबिक, इलेक्ट्रिक वाहन का चार्जिंग शुल्क लो-टेंशन से 4.5 रुपये प्रति यूनिट और हाई-टेंशन से 5 रुपये प्रति यूनिट होगा. यह भारत में सबसे कम टैरिफ मूल्य है. इस कीमत के साथ, चार्जिंग सुविधा के आधार पर सर्विस चार्ज जोड़ा जाता है. दिल्ली में 70 चार्जिंग स्टेशन पहले से ही काम कर रहे हैं.

इन 100 वाहनों के मॉडल होंगे चार्ज
>> 14 इलेक्ट्रिक दो पहिया वाहन (हीरो इलेक्ट्रिक, ओकिनावा, एम्पीयर, जितेंद्र न्यू ईवी टेक और ली-आयनों इलेक्ट्रिक).
>> 12 इलेक्ट्रिक चार पहिया वाहन (टाटा-महिंद्रा).
>> चार इलेक्ट्रिक ऑटो (2 महिंद्रा, 1 पिआगो और 1 सारथी).
>> ई-रिक्शा के 45 मॉडल.
>> 17 ई-कार्ट मॉडल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज