कोरोना के असर को कम करने के लिए अमेरिकी सरकार जल्द नागरिकों को देगी 74000 रुपये का चेक!

अमेरिका में ट्रंप प्रशासन अपने नागरिकों को सीधे चेक भेजकर आर्थिक मदद कर रही है.
अमेरिका में ट्रंप प्रशासन अपने नागरिकों को सीधे चेक भेजकर आर्थिक मदद कर रही है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और ट्रेजरी सेक्रेटरी स्टीवन मेनुचिन ( Treasury Secretary Steven Mnuchin) ने मंगलवार को अमेरिकी वयस्कों को 1,000 अमेरिकी डॉलर (करीब 74 हजार रुपये) तक के चेक भेजने का प्रस्ताव दिया है.

  • ए पी
  • Last Updated: March 18, 2020, 2:01 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. कोरोना के कहर से अर्थव्यवस्था (World Biggest Economy) और नागरिकों को सेफ रखने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति  डोनाल्ड ट्रंप (USA President Donald Trump) ने बड़ा राहत पैकेज देने का ऐलान किया है. इस स्कीम के जरिए अमेरिकी वर्कर्स को नकद भुगतान मिलेगा. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और ट्रेजरी सेक्रेटरी स्टीवन मेनुचिन ( Treasury Secretary Steven Mnuchin) ने मंगलवार को अमेरिकी वयस्कों को 1,000 अमेरिकी डॉलर (करीब 74 हजार रुपये) तक के चेक भेजने का प्रस्ताव दिया है. इस राहत पैकेज के लिए सरकार को कुल 1 लाख करोड़ डॉलर खर्च करने होंगे. इससे अमेरिकी अर्थव्यवस्था को सीधे फायदा मिलेगा. क्योंकि सैकड़ों अरब डॉलर का निवेश होगा. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, इस राहत पैकेज से जुड़ी पूरी जानकारी अभी तक नहीं आई है.

अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व ने आर्थिक मंदी के खतरे को देखते हुए ब्याज दर को घटा कर लगभग शून्य कर दिया है. अमेरिका के राष्ट्रपति ने 10 से अधिक लोगों के एकत्रित न होने का अनुरोध किया है. उन्होंने लोगों से घरों के भीतर रहने और जितना संभव हो सके, उतना घर से ही काम करने के लिए कहा है. देशभर में स्कूल, कार्यालय, बार, रेस्तरां और कई स्टोर बंद हैं.

ये भी पढ़ें :-कोरोना से ग्राहकों को सेफ रखने के लिए, ICICI बैंक ने शुरू की नई सर्विस



अर्थशास्त्रियों का कहना है कि 1930 के दशक में आई महा आर्थिक मंदी से निकलने के सबसे प्रभावी उपायों में से एक था. लेकिन ऐसे किसी भी प्रोग्राम को कांग्रेस (संसद) की मंजूरी की आवश्यकता होगी. दोनों दल रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक को इसके लिए मिलकर काम करना होगा.
आपको बता दें कि अमेरिका जैसे विकसित देश में इस संक्रामक बीमारी से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 105 पर पहुंच गई है. वहीं कोरोना वायरस का केंद्र रहे चीन के वुहान शहर में मंगलवार को लगातार दूसरे दिन केवल एक मामले की पुष्टि हुई.

ये भी पढ़ें :-Coronavirus की वजह से इस कंपनी ने कर्मचारियों को बिना सैलेरी छुट्टी पर भेजा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज