जानबूझकर Tax चोरी करने वाले हो जाएं सावधान, हो सकती है 7 साल की कैद, जानिए क्या है Income Tax का रूल?

जानबूझकर Tax चोरी करने वाले हो जाएं सावधान, हो सकती है 7 साल की कैद, जानिए क्या है Income Tax का रूल?
जानबूझकर Tax चोरी करने वाले हो जाएं सावधान हो सकती है 7 साल की कैद, जानिए Rule

टैक्स चोरी (Tax evasion) एक बहुत बड़ा क्राइम (Crime) है. आयकर विभाग (Income Tax department) में टैक्स चोरी करने वालों के खिलाफ कठोर सजा का प्रावधान है. आइए आपको बताते हैं टैक्स चोरी करने पर आपको कितने साल की हो सकती है सजा.

  • Share this:
नई दिल्ली. टैक्स चोरी (Tax evasion) एक बहुत बड़ा क्राइम (Crime) है. आयकर विभाग (Income Tax department) के नियमों के तहत टैक्स चोरी करने वालों के खिलाफ कठोर सजा का प्रावधान है. यदि कोई व्यक्ति किसी भी प्रकार के टैक्स, जुर्माने या ब्याज को कम करने या गिरवी रखने या अपनी आय को रिपोर्ट करने में किसी भी तरीके से धोखाधड़ी का प्रयास करता है, तो उसे कम से कम 3 महीने से लेकर 7 साल तक तक सलाखों के पीछे रहना पड़ेगा. इसके अलावा आपको जुर्माना भी भरना पड़ेगा. विलफुल टैक्स चोरी (Wilful tax evasion) करने पर आयकर अधिनियम की धारा 276 सी (Section 276C) के तहत सजा का प्रावधान है.

25 लाख रुपये से ज्यादा का टैक्स छुपाने पर 6 महीने की हो सकती है जेल
आयकर विभाग की धारा 276 (C) के तहत अगर कोई शख्स 25 लाख रुपये से ज्यादा का टैक्स छुपाने की कोशिश करता है, तो उसे सजा के तौर पर न्यूनतम 6 महीने की जेल हो सकती है. वहीं, इस क्राइम में अधिकतम सजा 7 साल की जेल होती है. हालांकि Section 276C (2) के तहत अगर छुपाया गया टैक्स 25 लाख रुपये से ज्यादा नहीं होता है तो करदाता को न्यूनतम 3 महीने की जेल हो सकती है, तो अधिकतम 2 साल तक की हो सकती है.

ये भी पढ़ें:- 1 अगस्त से बदल जाएंगे आपके पैसों से जुड़े ये नियम, आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर
जेल की हवा खानी पड़ेगी


बता दें कि इस धारा के अंतर्गत आपके खिलाफ तभी मामला दर्ज कराया जा सकता है, जब आपने जानबूझकर टैक्स छुपाया हो. करदाता जानबूझकर खाते से संबंधित किसी किताब या दस्तावेज में इसका उल्लेख न करे. इसके अलावा अब खाते से संबंधित किसी किताब या दस्तावेज में गलत जानकारियां दर्ज कराने पर आपको जेल की हवा खानी पड़ेगी. अन्य कोई गतिविधि जिससे यह साबित होता हो कि आपने टैक्स छुपाने की कोशिश की है तो आपको जेल जाना पड़ेगा. हालांकि आयकर विभाग के नियमों के मुताबिक, किसी भी व्यक्ति को उसकी सफाई का मौका दिए बिना उस पर किसी भी तरह का जुर्माना, अभियोजन या फिर अन्य कोई सजा नहीं दी जा सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading