Home /News /business /

IT डिपार्टमेंट ने जारी कर दिया 45,896 करोड़ रुपये का रिफंड, आपके खाते में आया पैसा या नहीं?

IT डिपार्टमेंट ने जारी कर दिया 45,896 करोड़ रुपये का रिफंड, आपके खाते में आया पैसा या नहीं?

इनकम टैक्स रिफंड (income tax refund)

इनकम टैक्स रिफंड (income tax refund)

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income tax department) ने चालू वित्त वर्ष के 1 अप्रैल से लेकर 2 अगस्त तक के बीच में 21.32 लाख टैक्सपेयर्स (taxpayers) की करीब 45,896 कररोड़ रुपये का रिफंड जारी किया है.

    नई दिल्ली: अगर आप भी इनकम टैक्स रिफंड (income tax refund) का इंतजार कर रहे हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income tax department) ने चालू वित्त वर्ष के 1 अप्रैल से लेकर 2 अगस्त तक के बीच में 21.32 लाख टैक्सपेयर्स (taxpayers) की करीब 45,896 कररोड़ रुपये का रिफंड जारी किया है. इनकम टैक्स विभाग ने ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी है. IT डिपार्टमेंट ने 21.32 इंडिविजुअल मामलों में 13,694 करोड़ रुपए का रिफंड जारी किया है. वहीं, 1,19,173 कॉर्पोरेट मामलों में 32,203 करोड़ रुपए का रिफंड जारी किया गया है.

    सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्स (CBDT) ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है. ट्वीट में लिखा है कि सीबीडीटी ने 1 अप्रैल, 2021 से 02 अगस्त, 2021 के बीच 21.32 लाख से अधिक करदाताओं को 45,896 करोड़ रुपये का आयकर रिफंड जारी किया गया है. 20,12,802 मामलों में 13,694 करोड़ जारी किए गए हैं और 1,19,173 कॉरपोरेट टैक्स मामलों में 32,203 करोड़ जारी किए गए हैं.

    यह भी पढ़ें: PF के पैसे निकाल रहे तो जल्दी कर लें ये काम, वरना अटक जाएगा पूरा पैसा!

    चेक कर सकते हैं स्टेटस
    CBDT ने आयकर अधिनियम, 1961 के तहत विभिन्न फॉर्म्स की इलेक्ट्रॉनिक फाइलिंग के लिए अंतिम तारीख को भी बढ़ा दिया है. आपको बता दें ये रकम टैक्सपेयर्स के खाते में भेजी गई है. आपके अकाउंट में रुपये आए हैं या नहीं इस बात का पता लगाने के लिए स्टेटस चेक कर सकते हैं.


    इनकम टैक्स रिफंड स्टेटस जांच करने के तरीके

    1. NSDL की वेबसाइट पर चेक करें-
    >> आप www.incometaxindia.gov.in या www.tin-nsdl.com पर ऑनलाइन अपने रिफंड का स्टेटस पता कर सकते हैं.
    >> इनमें से किसी भी वेबसाइट पर लॉनिग करें और Status of Tax Refunds टैब पर क्लिक करें.
    >> अपना पैन नंबर और एसेसमेंट ईयर डालें जिस साल के लिए रिफंड पेंडिंग है.
    >> अगर डिपार्टमेंट ने रिफंड प्रोसेस कर दिया है तो आपको एक मेसेज मिलेगा मोड ऑफ पेमेंट, रेफरेंस नंबर, स्टेटस और रिफंड की तारीख का जिक्र होगा.
    >> अगर रिफंड प्रोसेस नहीं हुआ है या नहीं दिया गया है तो वैसा मेसेज आएगा.

    2. ई-फाइलिंग पोर्टल पर इस तरह करें चेक-
    >> यहां क्लिक करके आयकर विभाग के ई-फाइलिंग पोर्टल में एंटर करें.
    >> रिटर्न / फॉर्म देखें.
    >> माय अकाउंट टैब पर जाएं और इनकम टैक्स रिटर्न सेलेक्ट करें.
    >> सबमिट पर क्लिक करें.
    >> पावती (acknowledgement) नंबर पर क्लिक करें.
    >> इनकम टैक्स रिफंड की स्थिति के साथ आपकी रिटर्न डिटेल दिखाने वाला पेज दिखाई देगा.

    यह भी पढ़ें: Petrol Diesel Price Today: लगातार 22वें दिन महंगे तेल से राहत, चेक करें अपने शहर में 1 लीटर का भाव

    क्या होता है टैक्स रिफंड?
    आयकर दाता का इनकम टैक्स किसी वित्त वर्ष में उसके अनुमानित निवेश दस्तावेज के आधार पर एडवांस काट लिया जाता है. लेकिन जब वित्त वर्ष के अंत तक वह फाइनल कागजात जमा करता है, तब अगर हिसाब करने पर उसे यह मिलता है कि उसका टैक्स ज्यादा कट गया है और उसे आयकर विभाग से पैसे वापस लेने हैं, तो वह इसके लिए आईटीआर दाखिल कर रिफंड के लिए अप्लाई करता है.

    Tags: Business news in hindi, Income tax, Income tax department, IT refund

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर