करदाताओं को मिलेगा अपने सवालों का जवाब, आईटी सर्विस शुरू

आयकर विभाग ने करदाताओं के लिए ऑनलाइन चैट की सुविधा शुरू की है ताकि वे प्रत्यक्ष कर से जुड़े मुद्दों को लेकर शंकाएं दूर कर सकें एवं अन्य पूछताछ कर सकें.

भाषा
Updated: October 18, 2017, 3:51 PM IST
करदाताओं को मिलेगा अपने सवालों का जवाब, आईटी सर्विस शुरू
करदाताओं को मिलेगा अपने सवालो का जवाब, आईटी सर्विस शुरू.
भाषा
Updated: October 18, 2017, 3:51 PM IST
आयकर विभाग ने करदाताओं के लिए ऑनलाइन चैट की सुविधा शुरू की है ताकि वे प्रत्यक्ष कर से जुड़े मुद्दों को लेकर शंकाएं दूर कर सकें एवं अन्य पूछताछ कर सकें.

विभाग की वेबसाइट ‘डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट इनकमटैक्सइंडिया डॉट जीओवी डॉट इन’ के मुख्य पेज पर इसके लिए ‘लाइव चैट ऑनलाइन-आस्क योर क्वैरी’ आइकन डाला गया है.

एक अधिकारी ने कहा, ‘‘विभाग के विशेषज्ञों तथा स्वतंत्र करदाताओं की एक टीम लोगों के आम सवालों का जवाब देगी. पहली बार शुरू की गयी इस मुहिम का लक्ष्य देश में करदाताओं को मिलने वाली सुविधा विस्तृत करनी है.’’ उसने आगे कहा कि विभाग को मिली प्रतिक्रिया के हिसाब से ऑनलाइन चैट प्रणाली में और फीचर जोड़े जाएंगे. कोई भी व्यक्ति ई-मेल आईडी लिखकर एक गेस्ट की तरह चैटरूम में प्रवेश कर सकता है.

अधिकारी ने बताया, ‘‘करदाताओं को पूरा चैट को अपनी आईडी पर ईमेल करने का भी विकल्प दिया गया है.’’ हालांकि, चैट की शुरुआत में एक एहतियातन सूचना दी गयी है, ‘‘दिये जाने वाले जवाब विशेषज्ञों के विचार पर आधारित हैं और इसे किसी भी स्थिति में किसी मुद्दे पर आयकर विभाग की सफाई नहीं माना जाना चाहिए.’’
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर