इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने दिल्ली- हरियाणा और गोवा समेत 5 राज्यों में मारे छापे

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने बताया कि सोमवार को दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 42 परिसरों में छापेमारी की गई.
केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने बताया कि सोमवार को दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 42 परिसरों में छापेमारी की गई.

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि दिल्ली-NCR, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 42 जगहों पर छापे मारे गए और 500 करोड़ रुपए से ज्यादा रकम के ट्रांजैक्शन का पता चला. यह रकम accommodation entries के जरिए छिपाने की कोशिश की गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 3:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने मंगलवार को कई हवाला ऑपरेटर और नकली बिल बनाने वाले कई लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर 5.26 करोड़ रुपये मूल्य के गहने और नकदी बरामद की. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने बताया कि सोमवार को दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 42 परिसरों में छापेमारी की गई.अधिकारियों ने बताया कि कार्रवाई ‘एंट्री ऑपरेशन’ (हवाला जैसे ऑपरेशन) गिरोह चलाने वाले लोगों के एक बड़े नेटवर्क और नकली बिल के जरिए अधिक पैसे बनाने वालों के खिलाफ की गई. सीबीडीटी ने एक बयान में कहा कि छापेमारी के दौरान 2.37 करोड़ रुपये नकद और 2.89 करोड़ रुपये मूल्य के गहने बरामद किए गए.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने बताया कि सोमवार को दिल्ली-NCR, हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 42 परिसरों में छापेमारी की गई. अधिकारियों ने बताया कि यह कार्रवाई एंट्री ऑपरेशन (हवाला जैसे ऑपरेशन) गिरोह चलाने वाले लोगों के एक बडे़ नेटवर्क और नकली बिल के जरिए अधिक पैसे बनाने वालों के खिलाफ की गई.

CBDT (Central Board of Direct Taxation) ने एक बयान में कहा कि छापेमारी के दौरान 2.37 करोड़ रुपये नकद और 2.89 करोड़ रुपये मूल्य के गहने बरामद किए गए. 17 बैंक लॉकर का भी पता चला है, जिनकी अभी तलाशी नहीं ली गई है.



CBDT ने कहा कि एंटी ऑपरेटर, बिचौलियों, नकदी संचालकों, लाभार्थियों और कम्पनियों और कम्पनियों के नेटवर्क को उजागर करने वाले सबूत मिले हैं. उसने कहा कि अब तक, 500 करोड़ रुपये मूल्य से अधिक की हेराफेरी के सबूतों को पहले ही पाया और जब्त किया जा चुका है.
CBDT ने कहा कि आगे की जांच जारी है. जांच में अभी तक पता चला है कि इन लोगों ने प्राइम शहरों की प्रॉपर्टी में काफी निवेश किया है. साथ ही सैकड़ों करोड़ों की नकदी जमा की है. सूत्रों के मुताबिक, आयकर विभाग ने दिल्ली-NCR, हरियाणा, उत्तराखंड, पंजाब और गोवा में एंट्री ऑपरेटर संजय जैन और उसके लाभार्थियों के 42 ठिकानों पर छापा मारा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज