लाइव टीवी

कोरोना: लॉकडाउन में बकाया टैक्स वसूली के लिए आयकर अधिकारी करेंगे ये काम

भाषा
Updated: March 30, 2020, 7:53 PM IST
कोरोना: लॉकडाउन में बकाया टैक्स वसूली के लिए आयकर अधिकारी करेंगे ये काम
आयकर विभाग ने अधिकारियों को बड़े करदाताओं से बकाया कर वसूली को लेकर करेंगे संपर्क

आयकर विभाग (Income Tax Department) ने देशभर में काम करने वाले अपने अधिकारियों से कहा है कि वह बड़े करदाताओं (Taxpayers) के साथ संपर्क में रहें और उन्हें बकाया कर वसूली के लिए फोन अथवा ई-मेल करते रहें.

  • Share this:
नई दिल्ली. आयकर विभाग (Income Tax Department) ने देशभर में काम करने वाले अपने अधिकारियों से कहा है कि वह बड़े करदाताओं (Taxpayers) के साथ संपर्क में रहें और उन्हें बकाया कर वसूली के लिए फोन अथवा ई-मेल करते रहें. हालांकि, सरकार ने पिछले सप्ताह ही कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के प्रसार को देखते हुए कर भुगतान और रिटर्न दाखिल करने की समयसीमा को तीन माह बढ़ाने छूट दी है.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) आयकर आयुक्त (समन्वय एवं व्यवस्था) राकेश गुप्ता ने पिछले सप्ताह ही फील्ड में काम करने वाले अपने अधिकारियों से बड़े करदाताओं पर बकाया कर की वसूली को लेकर किये गए प्रयासों के बारे में दैनिक रिपोर्ट भेजने को कहा है. अधिकारियों को भेजे संदेश में कहा गया है कि कोरोना वायरस के फैलने के बीच ज्यादातर अधिकारी घर से ही काम कर रहे हैं लेकिन एक दूसरे से जुड़ी मौजूदा दुनिया में काम लगातार आगे बढ़ाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: COVID-19: क्वारंटीन सेंटर बनाने के लिए भारतीय बिजनेसमैन ने दान की पूरी प्रॉपर्टी, कही ये बात



गुप्ता ने अपने संदेश में लिखा है, हालांकि, अधिकारियों को उनके सांवधिक कार्य के लिए आयकर व्यावसायिक एप्लीकेशन (आईटीबीए) प्लेटफार्म उपलब्ध नहीं है लेकिन इसके बावजूद बड़े करदाताओं के साथ टेलीफोन से अथवा इलेक्ट्रानिक साधनों के जरिये लंबित आयकर की वसूली के लिए बात की जा सकती है.



2018-19 की आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तिथि 3 महीने बढ़ी
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले सप्ताह ही 2018-19 का आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तिथि को तीन महीने बढ़ाने के साथ ही अग्रिम कर देरी से भरने, स्व: आकलन आधारित कर, नियमित कर, स्रोत पर कर कटौती, प्रतिभूति कारोबार कर आदि की समय सीमा को आगे बढ़ाने की घोषणा की है. इसके कुछ ही दिन बाद कर अधिकारियों को यह संदेश भेजा गया है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस पर सरकार का बड़ा फैसला, अब वेंटिलेटर्स बनाएंगी ऑटोमोबाइल कंपनियां

आयकर आयुक्त के इस निर्देश को लेकर कर अधिकारी सहज नहीं हैं. उन्होंने इसको लेकर सीबीडीटी चेयरमैन को पत्र लिखा है. आयकर कर्मचारियों और आयकर राजपत्रित अधिकारियों के संघ की संयुक्त संस्था ने एक पत्र भेजकर इस मामले में आश्चर्य जताया है. एक तरफ जब वित्त मंत्री ने विभिन्न अनुपालनों को लेकर समयसीमा में विस्तार दिया है यहां तक कि विवाद समाघान योजना विवाद से विश्वास की समयसीमा भी बढ़ा दी गई है तब ऐसे समय में करदाताओं पर कर भुगतान के लिए जोर देने के लिए निर्देश देना आश्चर्यजनक है.

यह भी पढ़ें:  BOB ने ब्याज दरों में की भारी कटौती, होम-ऑटो लोन होंगे सस्ते, घटेगा EMI का बोझ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 30, 2020, 6:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading