Home /News /business /

income tax refunds worth rs 1 93 lakh crore issued how to check status nodvkj

IT Refund: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने टैक्सपेयर्स को भेजे 1.93 लाख करोड़ रुपये, आपके खाते में आए या नहीं, ऐसे चेक करें

इनकम टैक्स ई फाइलिंग पोर्टल के जरिए या फिर एनएसडीएल की वेबसाइट के जरिए स्टेटस चेक किया जा सकता है.

इनकम टैक्स ई फाइलिंग पोर्टल के जरिए या फिर एनएसडीएल की वेबसाइट के जरिए स्टेटस चेक किया जा सकता है.

Income Tax Refund: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने चालू वित्त वर्ष में 20 मार्च तक 1.82 लाख करोड़ रुपये का टैक्स रिफंड जारी किया है. इनकम टैक्स रिफंड अटकने के मामलों में एक बड़ा कारण बैंक अकाउंट के विवरण में गलती हो सकती है.

नई दिल्ली. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) ने चालू वित्त वर्ष (2021-22) में 20 मार्च, 2022 तक 2.26 करोड़ से ज्यादा टैक्सपेयर्स को 1.93 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा राशि रिफंड की है. यह आंकड़ा 1 अप्रैल 2021 से 20 मार्च, 2022 के बीच हुए रिफंड का है. इसमें से पर्सनल इनकम टैक्स रिफंड 70,977 करोड़ रुपये था, जबकि कॉरपोरेट्स टैक्स रिफंड 1,22,744 करोड़ रुपये था.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने ट्वीट कर कहा, ”सीबीडीटी ने एक अप्रैल, 2021 से 20 मार्च, 2022 के बीच  2.26 करोड़ से ज्यादा टैक्सपेयर्स को 1.93 लाख करोड़ से अधिक की वापसी की है. 2,23,99,122 मामलों में 70,977 करोड़ रुपये का इनकम टैक्स रिफंड जारी किया गया है और 2,34,293 मामलों में 1,22,744 करोड़ रुपये का कॉर्पोरेट टैक्स रिफंड जारी किया गया है.”

ये भी पढ़ें- CSK ICICI Bank Credit Card: चेन्नई सुपर किंग्स के मैचों के लिए मिलेगा कॉम्प्लिमेंट्री टिकट, जानें कार्ड के और फीचर्स

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की नई वेबसाइट से चेक करें रिफंड स्टेटस-

अगर आपका भी इनकम टैक्स रिफंड आना था तो आप ऑनलाइन इसका स्टेटस चेक कर सकते हैं. इनकम टैक्स ई फाइलिंग पोर्टल के जरिए या फिर एनएसडीएल की वेबसाइट के जरिए स्टेटस चेक किया जा सकता है.

>> सबसे पहले वेबसाइट www.incometax.gov.in पर जाना होगा.

>> यूजर आईडी और पासवर्ड डालें.

>> लॉग इन के बाद आपको ई-फाइलिंग का ऑप्शन दिखाई देगा.

>> अब आप इनकम टैक्स रिटर्न्स को सलेक्ट करें

>> इसके बाद में व्यू फाइल रिटर्न पर क्लिक करें.

>> अब आपके आईटीआर की डिटेल्स दिख जाएगी.

ये भी पढ़ें- Netcore IPO: राजेश जैन की कंपनी नेटकोर भी लाएगी आईपीओ, देश में की थी डॉटकॉम एरा की शुरुआत

रिफंड अटकने के ये हो सकते हैं कारण

इनकम टैक्स रिफंड अटकने के मामलों में एक बड़ा कारण बैंक अकाउंट के विवरण में गलती हो सकती है. अगर आपने फॉर्म भरते हुए अपने अकाउंट का विवरण गलत भरा है तो इस वजह से आपका इनकम टैक्स रिफंड अटक सकता है. ऐसी स्थिति में आपको इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर अकाउंट का विवरण सही करना पडे़गा.

Tags: Income tax, Income tax department

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर