PM नरेंद्र मोदी ने किया जल जीवन मिशन का ऐलान, खर्च होंगे 3.5 लाख करोड़ रुपये

देश के 73वें स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi Speech) ने लाल किले से देश को संबोधित किया. अपने भाषण में उन्होंने पेयजल की सुरक्षा के लिए जल जीवन मिशन (Jal Jivan Mission) की नई योजना के बारे में बताया, जानें क्या है ये मिशन जिसमें 3.5 लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे.

News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 11:07 AM IST
PM नरेंद्र मोदी ने किया जल जीवन मिशन का ऐलान, खर्च होंगे 3.5 लाख करोड़ रुपये
हाल में नीति आयोग ने देश में जल संकट (Water Scarcity in India) पर ऐसी रिपोर्ट जारी की है जो पूरे देश के लिये ख़तरे के अलार्म की तरह है.
News18Hindi
Updated: August 15, 2019, 11:07 AM IST
Prime Minister Narendra Modi Independence Day Speech-देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लालकिले पर दिए गए अपने भाषण में जल जीवन मिशन (Jal Iivan Mission) का ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि सरकार का लक्ष्य अब हर घर तक पानी पहुंचाना है. इसको लेकर सरकार जल जीवन मिशन पर काम करेगी. केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर इस दिशा में कदम बढ़ाएंगी. उन्होंने कहा कि सरकार आने वाले दिनों में इस ​मिशन पर 3.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करेगी.

आपको बता दें कि हाल में नीति आयोग ने देश में जल संकट (Water Scarcity in India) पर ऐसी रिपोर्ट जारी की है जो पूरे देश के लिये ख़तरे के अलार्म की तरह है. रिपोर्ट में बताया गया है कि वर्ष 2030 तक देश की 40 प्रतिशत आबादी के पास पीने का पानी नहीं होगा. इनमें दिल्ली, बैंगलुरु, चेन्नई और हैदराबाद समेत देश के 21 शहर शामिल हैं. ये जल संकट देश की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह बर्बाद कर देगा. इसकी वजह से GDP को 6 प्रतिशत का नुक़सान होगा.

जल जीवन मिशन का ऐलान-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कहा है कि देश में आधे से अधिक घर ऐसे हैं जिनमें पीने का स्वच्छ पानी नहीं है. इससे उन लोगों के जीवन का बड़ा हिस्सा पानी को लाने में लग जाता है.

इसीलिए सरकार ने घर में जल, पीने का पानी लाने का संकल्प किया है. जल्द सरकार जल जीवन मिशन को लेकर आगे कदम उठाएगी. केंद्र और राज्य मिलकर इस योजना पर काम करेंगे. इस योजना पर 3.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करने की तैयारी है.

ये भी पढ़ें-भारत के नोट पर कहां से आई गांधी की फोटो, जानें क्या है कहानी



>> उन्होंने आगे कहा कि बारिश के पानी को रोकने, समुद्री पानी, माइक्रो इरिगेशन, पानी बचाने का अभियान, सामान्य नागिरक सजग हो, बच्चों को पानी के महत्व की शिक्षा दी जाए.
Loading...

>> प्रधानमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि 70 साल में जो काम हुआ है अगले पांच वर्षों में उससे पांच गुना अधिक काम हो, हमें इसका प्रयास करना है.

ये भी पढ़ें-भारत को मंदी से बचाने के लिए मोदी सरकार ने बनाया खास प्लान!

>> पेयजल की समस्या के बारे में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जैन मुनि महुड़ी ने लिखा है कि भविष्य में एक दिन ऐसा आएगा जब पानी किराने की दुकान में बिकेगा.



>> 100 साल पहले उनकी कही बात सही हो गई है. आज हम किराने की दुकान से पानी खरीदते हैं. उन्होंने कहा कि जल संचय का यह अभियान सरकारी नहीं बनना चाहिए, जन सामान्य का अभियान बनना चाहिए.

>> पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने देश में गरीबी कम करने की दिशा में आगे कदम बढ़ाए हैं. अभी तक हर दल की सरकार ने देश की भलाई में कुछ न कुछ किया है, लेकिन अभी भी 50 फीसदी

>> लोगों के घरों में पीने का पानी उपलब्ध नहीं है. लोगों को पीने के पानी के लिए कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

 
First published: August 15, 2019, 10:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...