IMF ने गीता गोपीनाथ को नियुक्त किया चीफ इकॉनमिस्ट

गोपीनाथ ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स की डिग्री हासिल की.
गोपीनाथ ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स की डिग्री हासिल की.

गोपीनाथ ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स तथा यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन से एमए की डिग्री हासिल की है. उसके बाद उन्होंने अर्थशास्त्र में प्रिंसटन यूनिवर्सि से 2001 में पीएचडी की डिग्री प्राप्त की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2018, 9:02 PM IST
  • Share this:
भारतीय मूल की अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ को इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड का चीफ इकॉनमिस्ट नियुक्त किया गया है. भारतीय रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन के बाद यह दूसरी बार है, जब किसी भारतीय को इस पद की जिम्मेदारी दी गई है.

आईएमएफ ने एक बयान के अनुसार, गोपीनाथ मारीस ओब्स्टफील्ड का जगह लेंगी. ओब्स्टफील्ड 2018 के अंत में रिटायर हो रहे हैं.

गीता गोपीनाथ फिलहाल हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं. आईएमएफ की प्रबंध निदेशक क्रिस्टीन लेगार्ड ने कहा, 'गोपीनाथ दुनिया की बेहतरीन अर्थशास्त्रियों में से एक हैं... उनके पास उम्दा शैक्षणिक योग्यता के साथ व्यापक अंतरराष्ट्रीय अनुभव भी है.'



गोपीनाथ ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए और दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स तथा यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन से एमए की डिग्री हासिल की. उसके बाद उन्होंने अर्थशास्त्र में पीएचडी की डिग्री प्रिंसटन यूनिवर्सि से 2001 में प्राप्त की.
गोपीनाथ अमेरिकन इकॉनमिक रिव्यू की सह संपादक और नेशनल ब्यूरो ऑफ इकॉनमिक रिसर्च की सह निर्देशक हैं. गोपीनाथ के पास फिलहाल अमेरिका की नागरिकता है.

इसे भी पढ़ें- 
मंद पड़ी पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था की रफ्तार, 5.2 प्रतिशत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान
US का सामना करने के लिए पाकिस्तान ने बनाया 'करेंसी प्लान', ये देश करेगा मदद!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज