अमेरिका और चीन की लड़ाई में भारत को होगा ये फायदा, इन प्रोडक्ट्स का बढ़ेगा एक्सपोर्ट

अमेरिका और चीन की लड़ाई में भारत को होगा ये फायदा, इन प्रोडक्ट्स का बढ़ेगा एक्सपोर्ट
अमेरिका और चीन की लड़ाई में भारत होगा ये फायदा

वाणिज्य मंत्रालय की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इस मौके का फायदा उठाकर भारत इन देशों को रसायन और ग्रेनाइट सहित 350 उत्पादों का निर्यात कर सकता है.

  • Share this:
अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वार भारत के लिए एक बड़ा अवसर है. वाणिज्य मंत्रालय की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इस मौके का फायदा उठाकर भारत इन देशों को रसायन और ग्रेनाइट सहित 350 उत्पादों का निर्यात कर सकता है. वाणिज्य मंत्रालय ने अमेरिका-चीन ट्रेड वार के बीच उन उत्पादों की पहचान की है जिनका निर्यात भारत इन देशों को कर सकता है.

भारत के लिए बना बड़ा अवसर
रिपोर्ट में कहा गया है कि यह भारत के लिए इन दोनों देशों को निर्यात बढ़ाने का एक बड़ा अवसर है. अमेरिका और चीन दोनों एक दूसरे के उत्पादों पर भारी आयात शुल्क लगा रहे हैं. इससे ट्रेड वार की स्थिति बन गई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि डीजल, एक्स-रे ट्यूब और कुछ रसायन सहित ऐसे 151 घरेलू उत्पाद हैं जिनका निर्यात भारत द्वारा चीन को किया जा सकता है.

ये भी पढ़ेंअब नहीं होगी कैश की किल्लत, बदल गया ATM से जुड़ा यह नियम
चीन अभी तक ये उत्पाद अमेरिका से खरीदता रहा है. इसी तरह ग्रेफाइट इलेक्ट्रोड्स और रबड़ जैसे 203 भारतीय उत्पाद ऐसे हैं जिनका निर्यात अमेरिका को किया जा सकता है. अमेरिका अभी ये उत्पाद चीन से खरीदता है. निर्यात बढ़ोतरी से भारत चीन के साथ अपने व्यापार घाटे को कम कर सकता है. अप्रैल-फरवरी 2018-19 में भारत का चीन के साथ व्यापार घाटा 50.12 अरब डॉलर का था.



भारत को फायदा हो रहा फायदा
निर्यातकों के प्रमुख संगठन फियो के अध्यक्ष गणेश कुमार गुप्ता ने कहा कि अमेरिका और चीन के व्यापार युद्ध से भारत को फायदा हो रहा है. उन्होंने बताया कि 2018 में अमेरिका का भारत का निर्यात 11.2 फीसदी बढ़ा है जबकि चीन को निर्यात 31.4 फीसदी अधिक रहा है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज