• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Indo-China Tension: कौन सा सेलिब्रिटी किस चीनी ब्रांड का विज्ञापन करता है? यहां देखें लिस्ट

Indo-China Tension: कौन सा सेलिब्रिटी किस चीनी ब्रांड का विज्ञापन करता है? यहां देखें लिस्ट

कई चीनी ब्रांड्स को भारतीय सिलेब्रिटी एंडॉर्स करते हैं.

कई चीनी ब्रांड्स को भारतीय सिलेब्रिटी एंडॉर्स करते हैं.

ट्रेडर्स बॉडी CAIT ने गुरुवार को ​भारतीय सेलिब्रिटीज द्वारा चीनी ब्रांड्स के एंडॉर्समेंट पर चिंता जाहिर की है. कैट ने कहा कि इन सेलिब्रिटी को चीनी ब्रांड्स का एंडॉर्समेंट कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर देना चाहिए.

  • Share this:
    नई दिल्ली. गलवान घाटी में 15 जून को चीन और भारत के सैनिकों के बीच झड़प की खबरें आईं. दोनों देशों के सैनिकों के बीच इस झड़प में करीब 42 साल बाद भारत के 20 सैनिकों की जान जाने की खबर है. इसी संबंध में गुरुवार को कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने भारतीय सेलिब्रिटी द्वारा चीनी ब्रांड्स की एंडोर्समेंट (Celebrities Endorsing Chinese Brands) को लेकर चिंता जाहिर की है. हाल के दिनों में दोनों देशों के बीच इस तनाव को देखते हुए CAIT ने कहा कि यह देश के हित में होगा कि भारतीय सेलिब्रिटी तत्काल प्रभाव से चीनी ब्रांड्स का एंडॉर्समेंट बंद कर दें.

    CAIT ने यह भी कहा कि वो इस मामलों में दीपिका पादुकोण, विक्की कौशल, रनबीर कपूर, रनवीर सिंह, विराट कोहली, कटरीना कैफ और आमिर खान से संपर्क भी करेगा.

    तनाव के बीच चीनी ब्रांड्स भारतीय बाजार को लेकर सतर्क
    दूसरी तरफ इन चीनी ब्रांड्स भी दोनों देशों के बीच मौजूदा तनाव को देखते हुए जरूरी कदम उठाने का प्रयास कर रहे हैं. चीनी स्मार्टफोन निर्माता Oppo ने बुधवार को अपने फ्लैगशिप स्मार्टफोन लॉन्च इवेंट को कैंसिल कर दिया. कंपनी ने इसकी जगह 20 मिनट का एक प्री-रिकॉर्डेड वीडियो अपलोड किया है, जिसमें उसने बताया कि कोरोना वायरस महामारी के बीच वो कैसे भारतीय अथॉरिटीज के साथ मिलकर काम कर रही है. चीनी ब्रांड्स और सेलिब्रिटिज को भारत में चीन के विरोध का सामना करना पड़ सकता है.

    यह भी पढ़ें:- भारत-चीन तनाव के बीच Oppo ने कैंसिल किया स्मार्टफोन लॉन्च इवेंट, ये है वजह

    चीनी ब्रांड्स मार्केटिंग और​ विज्ञापन से पीछे हटे
    कई इलेक्ट्रॉनिक ब्रांड्स ने भी इस सप्ताह के लिए अपने विज्ञापनों को हटा लिया है और आने वाले दिनों में स्थिति का जायजा लेने के बाद ही कोई कदम उठाएंगे. वर्तमान में, कई स्मार्टफोन ब्रांड्स ने भारत में मार्केटिंग और सोशल मीडिया कम्युनिकेशंस को कम कर दिया है.

    चीनी ब्रांड्स को एंडॉर्स करते हैं ये सिलेब्रि​टीज
    भारतीय सेलिब्रिटी द्वारा चीनी स्मार्टफोन की ब्रांडिंग की बात करें तो आमिर खान Vivo कपंनी को एंडॉर्स करते हैं. इस कंपनी ने सारा अली खान को भी अपना चेहरा बनाया है. इसी प्रकार रनबीर कपूर Oppo का चेहरा है. हाल ही में इस कंपनी ने अपने Reno सीरीज के लिए कटरीना कैफ को अपने साथ जोड़ा था. Xiaomi कंपनी के एक अंग RedMi को रनवीर सिंह एंडॉर्स करते हैं. सलमान खान और श्रद्धा कपूर रियलमी को एंडॉर्स करते हैं. भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली iQoo का चेहरा हैं. iQoo चीनी कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स (BBK Electronics) का नया ब्रांड है. Vivo, Oppo, RealMe और One Plust भी इसी BBK इलेक्ट्रॉनिक्स की ही सब्सिडियरी कंपनियां हैं. Lenovo ने रनबीर कपूर को साल 2012 में अपने साथ जोड़ा था जोकि अब तक जारी है.

    यह भी पढ़ें:- भारतीय खरीदारों की आंख में धूल झोंक रहा है चीन! चीनी सामानों को बहिष्कार से बचने के लिए कर रहा है ये चालाकी, ऐसे बचें आप?

    भारत ग्राहकों के लिए नए कैंपेन की तैयारी में चीनी ब्रांड्स
    एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि कुछ चीनी कंपनियां 'मेक इन ​इंडिया' के हैशटैग का भी इस्तेमाल कर सकती हैं. दरसअल, ये कंपनियां भारतीय ग्राहकों को यह महसूस कराना चाहती हैं कि भारत में वो कितने बड़े स्तर पर निवेश कर रही हैं और मोबाइल कम्पोनेन्ट्स को भारत में मैन्युफैक्चर करने को लेकर उनकी क्या योजना है. ओप्पो ने भारत में एसेंबलिंग फैसिलिटी भी खोला है. भारत में बिकने वाले हर 10 में से 8 स्मार्टफोन किसी न किसी चीनी ब्रांड का ही है.

    2019 में 1.1 अरब डॉलर का हर सेलिब्रिटी एंडॉर्समेंट बाजार
    डफ एंड फैल्प्स ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया कि भारत में 2019 के दौरान सेलिब्रिटी एंडॉर्समेंट 1.1 अरब डॉलर का रहा. इसमें विराट कोहली और ​दीपिका पादुकोण सबसे ज्यादा कमाई करने वाले सेलिब्रिटी रहे. इस रिपोर्ट में डिजिटल प्लेटफॉर्म्स में सबसे ज्यादा प्रमोशन के टॉप 5 लिस्ट में शाओमी भी शामिल रहा, जिसे रनवीर​ सिंह एंडॉर्स करते हैं.

    यह भी पढ़ें:- सरकार की इस स्कीम के तहत मिल रहे सिर्फ 1 रु. में सैनेटरी नैपकीन, अभी तक बिक चुके 4.61 करोड़

    इन सेलिब्रिटीज को चीनी ब्रांड्स के एंडॉर्समेंट जारी रखने पर भारत में एंटी-चाइना सेंटीमेंट (Anti-China Sentiment) का सामना करना पड़ सकता है. दूसरी तरफ यह भी चुनौती होगी कि अचानक किसी कॉन्ट्रैक्ट को खत्म करना भी आसान नहीं होगा. इन कॉन्ट्रैक्ट्स को लेकर सेलिब्रिटीज की प्रतिबद्धता और कानूनी कार्रवाई की भी जटिलता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज