कोरोना के दौरान 6 महीने तक चाइनीज लोगों ने खूब खाया भारतीय गुड़

अप्रैल से सितंबर के बीच चीन ने जमकर भारतीय गुड़ का आयात किया है.

अप्रैल से सितंबर के बीच चीन ने जमकर भारतीय गुड़ का आयात किया है.

एक्सपोर्ट अथॉरिटी के आंकड़ों से पता चलता है कि अप्रैल-सितंबर के बीच भारत से चीन के लिए गुड़ की सप्लाई (Jaggery Export to China) जा रही थी. इस दौरान सबसे ज़्यादा 1583 मीट्रिक टन गुड़ गुजरात से भेजा गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2020, 9:50 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना-लॉकडाउन (Corona-Lockdown) के दौरान शरीर की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाई जाए इस पर जमकर चर्चा हो रही थी. कभी काढ़ा पीने की सलाह दी जा रही थी तो कभी मेवा और दूसरी चीज़ें खाकर इम्यूनिटी बढ़ाने की सलाह दी जा रही थी. इसी दौरान हमारा पड़ोसी देश चीन (China) भारत से गुड़ (Jaggery) खरीदकर खा रहा था. अप्रैल से सितम्बर, 2020 तक चीन ने जब जैसे मौका मिला खूब गुड़ मंगाया. गुजरात (Gujarat), महाराष्ट्रा और तेलंगाना से चीन को गुड़ भेजा गया गया. साल 2019 के मुकाबले इस साल चीन ने कई गुना मात्रा में गुड़ खरीदा है.

6 महीने में 2404 मीट्रिक टन गुड़ खा गए चाइनीज

एक्सपोर्ट अथॉरिटी के आंकड़ों पर जाएं तो अप्रैल-सितम्बर में जब कोरोना महामारी का प्रकोप था और लॉकडाउन लगा हुआ था, उस वक्त भारत से चीन के लिए गुड़ की सप्लाई जा रही थी. इस दौरान सबसे ज़्यादा 1583 मीट्रिक टन गुड़ गुजरात से भेजा गया. इसके बाद दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र से 819.46 मीट्रिक टन गुड़ और तेलंगाना से करीब 2 मीट्रिक टन गुड़ चीने के लिए भेजा गया. इस तरह से सिर्फ 6 महीने में 2404 मीट्रिक टन गुड़ चीन ने भारत से खरीदा. जिसकी कीमत 9.22 लाख अमेरिकी डालर थी.

बड़ी खबर: दिल्ली में बचा है सिर्फ 3 से 4 दिन का स्टॉक, कीमतों में आ सकती है जोरदार तेजी
कोरोना के वक्त ज़्यादा खरीदा गया गुड़

अथॉरिटी के आंकड़े बताते हैं कि चीन ने कोरोना के दौरान सबसे ज़्यादा गुड़ खरीदा है. अगर साल 2019-20 में 12 महीने के आंकड़े देखें तो चीन ने सिर्फ 63 मीट्रिक टन ही गुड़ भारत से खरीदा था. मतलब कोरोना के वक्त गुड़ ज़्यादा खरीदा गया. इस दौरान गुड़ से बनी कुछ और चीजें भी चीन को सप्लाई की गईं. गुड़ के एक्सपर्ट और देश की सबसे बड़ी शामली गुड़ मंडी को कवर करने वाले वरिष्ठ पत्रकार पंकज मलिक बताते हैं, अब गुड़ का कारोबार

पहले जैसा नहीं रहा है कि सिर्फ गांव की हाट में और पंसारी की दुकान पर मिला करता था. अब गुड़ विदेशों से लेकर मॉल तक पहुंच गया. चीन ही नहीं दूसरे देशों में भी 250 ग्राम की पैकिंग से लेकर 1 किलो की पैकिंग में गुड़ खूब एक्सपोर्ट हो रहा है. वेस्ट यूपी में कई पैकेजिंग यूनिट भी लग गई हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज