Home /News /business /

भारत ने चालू विपणन वर्ष में अब तक 9.39 लाख टन चीनी का निर्यात किया : एआईएसटीए

भारत ने चालू विपणन वर्ष में अब तक 9.39 लाख टन चीनी का निर्यात किया : एआईएसटीए

  चीनी विपणन वर्ष अक्टूबर से सितंबर तक चलता है.

चीनी विपणन वर्ष अक्टूबर से सितंबर तक चलता है.

अखिल भारतीय चीनी व्यापार संघ (एआईएसटीए) ने एक बयान में कहा कि लगभग 4.68 लाख टन चीनी निर्यात के रास्ते में है. इसमें कहा गया है कि चीनी मिलों ने विपणन वर्ष 2021-22 में अब तक बिना सरकारी सब्सिडी के 33 लाख टन चीनी निर्यात करने का अनुबंध किया है. चीनी विपणन वर्ष अक्टूबर से सितंबर तक चलता है. इस साल चीनी का निर्यात बिना सरकारी सब्सिडी के किया जा रहा है. एआईएसटीए के अनुसार, चीनी मिलों ने एक अक्टूबर से छह दिसंबर, 2021 तक कुल 9,39,435 टन चीनी का निर्यात किया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली . चीनी मिलों ने एक अक्टूबर से शुरू हुए विपणन वर्ष 2021-22 के दौरान दिसंबर के पहले सप्ताह तक 9.39 लाख टन चीनी का निर्यात किया है. व्यापार निकाय एआईएसटीए ने मंगलवार को कहा कि वैश्विक कीमतों में नरमी के रुख को देखते हुए और स्टॉक बेचने की कोई जल्दीबाजी नहीं है.

    अखिल भारतीय चीनी व्यापार संघ (एआईएसटीए) ने एक बयान में कहा कि लगभग 4.68 लाख टन चीनी निर्यात के रास्ते में है. इसमें कहा गया है कि चीनी मिलों ने विपणन वर्ष 2021-22 में अब तक बिना सरकारी सब्सिडी के 33 लाख टन चीनी निर्यात करने का अनुबंध किया है.

    चीनी विपणन वर्ष अक्टूबर से सितंबर तक 
    चीनी विपणन वर्ष अक्टूबर से सितंबर तक चलता है. इस साल चीनी का निर्यात बिना सरकारी सब्सिडी के किया जा रहा है. एआईएसटीए के अनुसार, चीनी मिलों ने एक अक्टूबर से छह दिसंबर, 2021 तक कुल 9,39,435 टन चीनी का निर्यात किया है.

    यह भी पढ़ें- इस सरकारी स्कीम से मिल सकती है 10 हजार रुपए की मसिक पेंशन, जानिए डिटेल व अन्य फायदे

    एआईएसटीए ने कहा, ‘‘भारतीय चीनी मिलें, चीनी बेचने की जल्दी में नहीं हैं क्योंकि पिछली बिक्री का क्रियान्वयन अभी बाकी है. साथ ही उन्हें मौजूदा वैश्विक कीमतें आकर्षक नहीं लग रही हैं.’’

    सबसे अधिक निर्यात सौदे महाराष्ट्र में चीनी मिलों द्वारा
    एआईएसटीए ने कहा है कि सबसे अधिक निर्यात सौदे महाराष्ट्र में चीनी मिलों द्वारा किए गए हैं. यहां मिलों को भारी लॉजिस्टिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. जैसे कि, रेलवे और सड़क दोनों मार्गों से परिवहन की गंभीर समस्याएं हैं.

    विपणन वर्ष 2020-21 के दौरान देश ने रिकॉर्ड 72.3 लाख टन चीनी का निर्यात किया था. अधिकतम निर्यात सरकारी सब्सिडी की मदद से किया गया था.

    Tags: Business, Business news, Sugar, Sugar mill, Sugar prices, Sugarcane Belt, Sugarcane Farmer, Sugarcane Farmers

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर