Home /News /business /

कोरोना से रिकवरी काल में जॉब्स के लिए ऑफर हुई 29 प्रतिशत ज्यादा सेलरी!

कोरोना से रिकवरी काल में जॉब्स के लिए ऑफर हुई 29 प्रतिशत ज्यादा सेलरी!

कोरोना महामारी (Pandemic) के बाद रिकवरी के दौरान भारत में नौकरी पाने वालों को 29 प्रतिशत तक ज्यादा सेलरी ऑफर (Salary Offer) हुई है.

कोरोना महामारी (Pandemic) के बाद रिकवरी के दौरान भारत में नौकरी पाने वालों को 29 प्रतिशत तक ज्यादा सेलरी ऑफर (Salary Offer) हुई है.

कोरोना महामारी (Pandemic) के बाद रिकवरी के दौरान भारत में नौकरी पाने वालों को 29 प्रतिशत तक ज्यादा सेलरी ऑफर (Salary Offer) हुई है. इंडिया इंक (India Inc.) ने ये बात भारत की प्रमुख एक्युजिशन फर्म करियरनेट (Careernet) के इंटरनल डेटा के विश्लेषण के आधार पर कही है. 0-3 साल के अनुभव वाले कैंडिडेट्स के लिए हैदराबाद सबसे अच्छी जगह साबित हुई. यहां अधिकतम सेलरी हाइक 86% को छू गया. 3-7 साल के अनुभवी कैंडिडेट्स को दिल्ली/एनसीआर में 41% तक का सेलरी हाइक ऑफर हुआ. इस ब्रैकेट में हैदराबाद, बैंगलुरु और मुम्बई पीछे रह गए.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना महामारी (Pandemic) के बाद रिकवरी के दौरान भारत में नौकरी पाने वालों को 29 प्रतिशत तक ज्यादा सेलरी ऑफर (Salary Offer) हुई है. इंडिया इंक (India Inc.) ने ये बात भारत की प्रमुख एक्युजिशन फर्म करियरनेट (Careernet) के इंटरनल डेटा के विश्लेषण के आधार पर कही है. यह डेटा वित्त वर्ष 2021 और 2022 के पहले आधे हिस्से के दौरान 14 हजार नौकरियों के ऑफ़र्स के आधार पर पेश गया है.

    इस विश्लेषण से मुख्य तौर पर खुलासा हुआ है कि देशभर में इम्पलॉयर्स (नौकरी देने वालों) का हायरिंग सेटिंमेंट उत्तर (नॉर्थ) की तरफ झुका और जो सेलरी ऑफर की गई है वह भी बढ़ते क्रम (अपट्रेंड) में है. 0-3 साल और 3-7 साल के अनुभव वाले प्रोफेशनल्स को अधिकतम सेलरी हाइक (Salary Hikes) ऑफ़र हुए हैं.

    ये भी पढ़ें – Tesla में नौकरी करने का सुनहरा मौका, जानिए कैसे लोगों की है तलाश

    ग्लोबल से तुलना करें तो डोमेस्टिक बेहतर
    ये निष्कर्ष महामारी के दौरान और उसके बाद के समय (रिकवरी) में तुलना पर आधारित हैं. एक ही सेक्टर में एक जैसी नौकरियों के लिए कंपनियां जो सेलरी अप्रैल-सितंबर 2020 में ऑफर कर रही थीं, और उसी सेक्टर में वैसी ही नौकरियों के लिए अप्रैल-सितंबर 2021 के बीच जो सेलरी ऑफर हुई, उनमें अंतर देखा गया है. अप्रैल-सितंबर 2021, जब देश महामारी से उबर रहा था, में ये ग्रोथ नजर आई है.

    ये भी पढ़ें – दो बड़े ब्रोकरेज हाउस ने दी ICICI बैंक खरीदने की सलाह, लेकिन टारगेट अलग-अलग

    यदि हम ग्लोबल इम्पलॉयर्स से तुलना करें तो घरेलू (डोमेस्टिक) इम्पलॉयर्स ने ज्यादा सेलरी ऑफर की है. घरेलू इम्पलॉयर्स द्वारा एंट्री लेवल पर 34 प्रतिशत और मिड-लेवल कैंडिडेट्स को 36 प्रतिशत ज्यादा सेलरी ऑफर की गई. ग्लोबल मार्केट में ये आंकड़ा एंट्री लेवल पर 17% तो मिड-लेवल पर 15% रहा.

    दिल्ली/एनसीआर और हैदराबाद सबसे आगे
    सबसे ज्यादा सेलरी हाइक ऑफर करने वालों शहरों में हैदराबाद, बैंगलुरु, दिल्ली/एनसीआर और मुंबई शामिल हैं. 0-3 साल के अनुभव वाले कैंडिडेट्स के लिए हैदराबाद सबसे अच्छी जगह साबित हुई. यहां अधिकतम सेलरी हाइक 86% को छू गया. इसके बाद नंबर आता है बैंगलुरु, दिल्ली/एनसीआर और मुम्बई का. 3-7 साल के अनुभवी कैंडिडेट्स को दिल्ली/एनसीआर में 41% तक का सेलरी हाइक ऑफर हुआ. इस ब्रैकेट में हैदराबाद, बैंगलुरु और मुम्बई पीछे रह गए.

    Tags: Employer, Job, Salary hike

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर