होम /न्यूज /व्यवसाय /सरकार का दावा- FY23 में 100 अरब डॉलर का FDI आने की उम्मीद

सरकार का दावा- FY23 में 100 अरब डॉलर का FDI आने की उम्मीद

प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI)

प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI)

देश को 2021-22 में अब तक का सर्वाधिक 83.6 अरब डॉलर का विदेशी निवेश प्राप्त हुआ था. वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने कहा क ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. भारत अपने आर्थिक सुधारों और कारोबार करने में सुगमता के प्रयासों के बूते चालू वित्त वर्ष (FY23) में 100 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) आकर्षित करने की दिशा में अग्रसर है. सरकार ने शनिवार को यह अनुमान जताया.

देश में एफडीआई 101 देशों से आया 
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘देश में एफडीआई 101 देशों से आया जिसे 31 केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों में तथा 51 क्षेत्रों में निवेश किया गया. अपने आर्थिक सुधारों और कारोबार करने में सुगमता बढ़ाने के प्रयासों के बूते भारत चालू वित्त वर्ष में 100 अरब डॉलर का एफडीआई पाने की दिशा में बढ़ रहा है.’’

2021-22 में अब तक का सर्वाधिक 83.6 अरब डॉलर का विदेशी निवेश प्राप्त हुआ
देश को 2021-22 में अब तक का सर्वाधिक 83.6 अरब डॉलर का विदेशी निवेश प्राप्त हुआ था. मंत्रालय ने कहा कि विदेशी निवेश आकर्षित करने के लिए सरकार ने उदार तथा पारदर्शी नीति अपनाई है जिसमें ज्यादातर क्षेत्र स्वचालित मार्ग के जरिए एफडीआई के लिए खुले हैं. सुधार के कदम अनावश्यक अनुपालन बोझ को कम करने, लागत घटाने और कारोबारी सुगमता को बढ़ाने के लिए उठाए गए हैं.

चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में भारत में एफडीआई इक्विटी प्रवाह छह फीसदी गिरकर 16.6 अरब डॉलर हो गया.

नीति में संशोधन के बाद रक्षा क्षेत्र में 494 करोड़ रुपये का एफडीआई आया : सरकार
इससे पहले इस साल जुलाई में सरकार ने राज्यसभा में कहा था कि सितंबर 2020 में एफडीआई से जुड़ी नीति में संशोधन के बाद से भारत को रक्षा क्षेत्र में करीब 494 करोड़ रुपये का एफडीआई प्राप्त हुआ है रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने एक सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी थी.

Tags: Fdi

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें