भारत का विदेशी मुद्रा भंडार ऑल टाइम हाई पर पहुंचा, 8.6 करोड़ डॉलर बढ़ा स्वर्ण भंडार

विदेशी मुद्रा भंडार (प्रतीकात्मक तस्वीर)
विदेशी मुद्रा भंडार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) 23 अक्टूबर को खत्म हुए हफ्ते में 5.412 अरब डॉलर बढ़कर 560.532 अरब डॉलर की सर्वकालिक ऊंचाई पर पहुंच गया.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) 23 अक्टूबर को खत्म हुए हफ्ते में 5.412 अरब डॉलर बढ़कर 560.532 अरब डॉलर की सर्वकालिक ऊंचाई पर पहुंच गया. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) के शुक्रवार को इसके आंकड़े जारी किए. इससे पिछले 16 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 3.61 अरब डॉलर की वृद्धि के साथ 555.12 अरब डॉलर था.

ये भी पढ़ें- 15वें वित्त आयोग की रिपोर्ट तैयार, 9 नवंबर को राष्ट्रपति को सौंपी जायेगी रिपोर्ट

560 अरब डॉलर के पार पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार
समीक्षावधि में विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ने की अहम वजह विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (Foreign Currency Assets) में बढ़ोत्तरी होना है. यह कुल विदेशी मुद्रा भंडार का बड़ा हिस्सा है. इस दौरान एफसीए 5.20 अरब डॉलर बढ़कर 571.52 अरब डॉलर हो गईं. विदेशी मुद्रा भंडार में अमेरिकी मुद्रा के अलावा यूरो, पौंड और येन जैसी अंतरराष्ट्रीय मुद्राएं भी शामिल होती हैं, लेकिन इनका मूल्य भी डॉलर में दर्शाया जाता है.
ये भी पढ़ें- दिवाली-छठ पर टिकट बुकिंग से पहले Aadhaar को IRCTC अकाउंट से कराएं लिंक, मिलेंगे कई फायदे



देश के स्वर्ण भंडार में भी बढ़ोतरी
रिजर्व बैंक का स्वर्ण भंडार (Gold Reserves) समीक्षावधि में 17.5 करोड़ डॉलर बढ़कर 36.86 अरब डॉलर हो गया है. इसके अलावा देश को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund) से मिला विशेष आहरण अधिकार (Special Drawing Rights) 80 लाख डॉलर बढ़कर 1.48 अरब डॉलर हो गया. वहीं आईएमएफ के पास जमा देश का विदेशी मुद्रा भंडार भी 2.7 करोड़ डॉलर बढ़कर 4.66 अरब डॉलर हो गया.

ये भी पढ़ें- केंद्र सरकार के इस कदम से जल्द सस्ता होगा आलू और प्याज, जानिए पूरा मामला?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज