• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • बिजली की मांग 12 फीसदी बढ़ी, जुलाई में खपत 125 अरब यूनिट के पार

बिजली की मांग 12 फीसदी बढ़ी, जुलाई में खपत 125 अरब यूनिट के पार

इस साल अप्रैल से बिजली की इंडस्ट्रियल और कमर्शियल मांग राज्यों द्वारा लगाए गए अंकुशों से प्रभावित हुई थी.

इस साल अप्रैल से बिजली की इंडस्ट्रियल और कमर्शियल मांग राज्यों द्वारा लगाए गए अंकुशों से प्रभावित हुई थी.

देश में बिजली की खपत (Power Consumption) जुलाई में करीब 12 फीसदी बढ़कर 125.51 अरब यूनिट (Billion Units) पर पहुंच गई.

  • Share this:

    नई दिल्ली. लॉकडाउन अंकुशों में ढील तथा मानसून में देरी की वजह से देश की बिजली की खपत (Power Consumption) जुलाई में करीब 12 फीसदी बढ़कर 125.51 अरब यूनिट (Billion Units) पर पहुंच गई. यह महामारी पूर्व के स्तर के लगभग बराबर है. बिजली मंत्रालय (Power Ministry) के आंकड़ों से यह जानकारी मिली है. जुलाई, 2020 में बिजली की खपत 112.14 अरब यूनिट रही थी. यह महामारी से पहले यानी जुलाई, 2019 के 116.48 अरब यूनिट के आंकड़े से थोड़ा ही कम है.

    एक्सपर्ट्स का कहना है कि जुलाई में बिजली की मांग में सुधार की प्रमुख वजह मानसून में देरी और राज्यों द्वारा अंकुशों में ढील के बाद आर्थिक गतिविधियों में तेजी आना है. उन्होंने कहा कि बिजली की मांग के अलावा खपत भी जुलाई में कोविड-19 के पूर्व के स्तर पर पहुंच गई है. आगामी महीनों में इसमें और सुधार की उम्मीद है.

    ये भी पढ़ें- पीएम मोदी 2 अगस्त को लॉन्च करेंगे डिजिटल पेमेंट सॉल्युशन e-RUPI, जानिए कैसे काम करता है ई-रुपी

    इस साल अप्रैल से बिजली की इंडस्ट्रियल और कमर्शियल मांग राज्यों द्वारा लगाए गए अंकुशों से प्रभावित हुई थी. एक्सपर्ट्स का कहना है कि कोविड-19 के मामलों में कमी तथा राज्यों द्वारा लॉकडाउन अंकुशों में ढील के बाद जुलाई से बिजली की इंडस्ट्रियल और कमर्शियल मांग में निश्चित रूप से सुधार होगा.

    एक दिन में बिजली की सबसे अधिक आपूर्ति 200.57 गीगावॉट रही
    व्यस्त समय की पूरी की गई बिजली की मांग या एक दिन में बिजली की सबसे अधिक आपूर्ति 200.57 गीगावॉट की रही. यह सात जुलाई, 2021 को दर्ज की गई. इसके अलावा दैनिक बिजली की खपत भी सात जुलाई को बढ़कर सर्वकालिक उच्चस्तर 450.8 करोड़ यूनिट पर पहुंच गई. जुलाई, 2020 के पूरे महीने में व्यस्त समय की पूरी की गई बिजली की मांग 170.40 गीगावॉट थी.

    ये भी पढ़ें- राकेश झुनझुनवाला को फॉलो कर रहे हैं विदेशी निवेशक, इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस में बढ़ाई हिस्सेदारी

    व्यस्त समय की पूरी की गई बिजली की मांग करीब 18 फीसदी ज्यादा रही
    इस तरह जुलाई, 2021 में व्यस्त समय की पूरी की गई बिजली की मांग करीब 18 फीसदी अधिक रही. दो जुलाई, 2020 को व्यस्त समय की बिजली की मांग 170.40 गीगावॉट दर्ज की गई थी. जुलाई, 2019 में व्यस्त समय की पूरी की गई बिजली की मांग 175.12 गीगावॉट रही थी. पिछले साल 25 मार्च से सरकार ने महामारी के प्रसार को रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लगाया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज