लाइव टीवी

कश्मीर और नागरिकता कानून पर मलेशिया के PM ने कही थी ये बात, अब भारत ने लिया बड़ा फैसला!

News18Hindi
Updated: January 13, 2020, 8:38 PM IST
कश्मीर और नागरिकता कानून पर मलेशिया के PM ने कही थी ये बात, अब भारत ने लिया बड़ा फैसला!
मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर बिन मोहम्मद

मलेशियाई पीएम महातिर बिन मोहम्मद ने कश्मीर और ना​गरिकता कानून में संशोधन की आलोचना की थी. इसके बाद भारत ने भी कूटनीतिक जवाब दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2020, 8:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के पॉम तेल आयातकों (Palm Oil Importers) ने तत्काल प्रभाव से मलेशिया (Malasiya) से आयात करना बंद कर​ दिया है. दरअसल, दोनों देशों में कूटनीतिक मसलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने आयातकों को प्राइवेट तौर पर आयात रोकने की चेतावनी दी है. केंद्र सरकार ने पिछले सप्ताह ही इसके बारे में चेतावनी जारी की थी. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से अपनी एक रिपोर्ट में यह बात कही है.

दरअसल, मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर बिन मोहम्मद (Mahathir bin Mohamad) ने भारत सरकार द्वारा कश्मीर और नागरिकता कानून में किए गए संशोधनों की आलोचना की थी. इसके बाद केंद्र सरकार ने घरेलू आयातकों को मलेशिया से पॉम तेल और पाल्मोलिन आयात बंद करने को कहा था.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार का मलेशिया समेत 4 देशों को बड़ा झटका, 5 साल तक चुकाएंगे कीमत



इंडोनेशिया से प्रीमियम दरों पर आयात
वर्तमान में, भारतीय खरीदार मलेशिया से कच्चे या रिफाइन्ड पॉम तेल (Refined Palm Oil) की खरीदारी नहीं कर रहे हैं. इस मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने बताया, 'आधिकारिक तौर पर मलेशिया से पॉम तेल या तो कच्चा या फिर रिफाइन्ड तौर आयात पर बैन नहीं है. लेकिन, केंद्र सरकार के निर्देश के बाद कोई इसे आयात नहीं कर रहा है.' इस शख्स ने आगे बताया कि मलेशिया की तुलना में इंडोनेशिया (Indonesia) से पॉम तेल को प्रीमियम दरों पर आयात किया जा रहा है.

मलेशिया पर क्या असर पड़ेगाबता दें कि भारत ही दुनियाभर में सबसे अधिक पॉम तेल खरीदता है. ऐसे में भारत के इस कदम से मलेशिया में पॉम तेल की कीमतों पर सीधे तौर पर असर पड़ेगा. इसे मलेशिया में पॉम तेल की इन्वेन्टरी में इजाफा देखने को मिल सकता है.

यह भी पढ़ें: अधिकारियों के लिए बड़ी खबर! फाइलें दबाकर बैठने वालों को बाहर निकालेगी सरकार



केंद्र सरकार ने आयातकों को क्या कहा है
इस रिपोर्ट में मुंबई के ट्रेडर के हवाले से लिखा गया है कि भारत सरकार ने उन्हें साफ कर दिया है कि आप मलेशिया से पॉम तेल का आयात कर सकते हैं. लेकिन, अगर आपका शिपमेंट कहीं फंस जाता है तो इसके लिए हमारे पास मत आएं. ऐसे में कोई ट्रेडर्स नहीं चाहता कि उनका ​शिपमेंट कहीं फंस जाए. भारत सरकार ने मलेशिया पॉम तेल को लेकर पब्लिक में कोई भी बात नहीं कहा है.

भारत में हर साल 90 लाख पॉम तेल आयात होता है
भारत में कुल खाद्य तेल का एक तिहाई हिस्सा पॉम तेल का होता है. भारत सालाना तौर पर करीब 90 लाख टन पॉम तेल आयात करता है. प्रमुख तौर पर यह इंडो​नेशिया और मलेशिया से आयात किया जाता है. हालांकि, सरकार की चेतावनी के बाद अब भारतीय पॉम तेल आयातक इंडोनेशिया से 10 डॉलर प्रति टन की प्रीमियम दर पर पॉम तेल का आयात कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: SBI अकाउंट में अपडेट नहीं की ये जानकारी तो कैश निकालने में होगी दिक्कत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 8:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर