भारतीय राजदूत संधू ने कहा- अमेरिका देता रहेगा भारतीय प्रोफेशनल्‍स को नौकरी

भारतीय राजदूत संधू ने कहा- अमेरिका देता रहेगा भारतीय प्रोफेशनल्‍स को नौकरी
अमेरिका में भारतीय राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने उम्‍मीद जताई है कि यूएस में भारतीय प्रोफेशनल्‍स को काम मिलता रहेगा.

अमेरिका में भारत के राजदूत (Indian Ambassador) तरनजीत सिंह संधू ने ओहियो के गवर्नर माइक डे वाइन के साथ बातचीत में कहा कि भारतीय प्रोफेशनल्‍स (Indian Professionals) ने अमेरिका की मजबूत अर्थव्‍यवस्‍था (American Economy) में काफी योगदान दिया है. इस दौरान उन्‍होंने भारतीय प्रोफेशनल्‍स को वीजा के मुद्दे पर भी बात की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 15, 2020, 7:12 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका में भारत के राजदूत (Indian Ambassador) तरनजीत सिंह संधू ने उम्मीद जताई है कि यूएस (US) में भारतीय प्रोफेशनल्‍स (Indian Professionals) को काम मिलना जारी रहेगा. उन्‍होंने कहा कि यहां की मजबूत अर्थव्‍यवस्‍था (US Economy) में भारतीय पेशेवरों का बहुत योगदान है. इसलिए अमेरिका उनका स्वागत करता रहेगा. ओहियो के गवर्नर माइक डे वाइन के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये बैठक में तरनजीत सिंह संधू ने भारतीय पेशेवरों को वीजा समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा की.

उच्‍च शिक्षा और तकनीकी क्षेत्र में तालमेल पर भी हुई बातचीत
तरनजीत सिंह संधू और डे वाइन के बीच इस दौरान उच्च शिक्षा (Higher Education) और टेक्‍नोलॉजी के क्षेत्र (Technology Sector) में संभावित तालमेल पर भी बातचीत हुई. इस दौरान संधू ने कहा कि भारतीय प्रोफेशनल्‍स अमेरिकी के उच्‍च शिक्षा और टेक्‍नोलॉजी सेक्‍टर में अहम योगदान दे सकते हैं. भारतीय दूतावास की ओर से बताया गया कि बैठक के दौरान संधू ने कहा कि भारतीय प्रोफेशनल्‍स ने अमेरिका की अर्थव्यवस्था में अहम योगदान दिया है. इस दौरान उन्‍होंने उम्मीद जताई कि अमेरिका में भारतीय प्रोफेशनल्‍स का स्वागत जारी रहेगा .

ये भी पढ़ें- बाबा रामदेव की पतंजलि के बाद अब Tata भी हुई IPL को स्पांसर करने की रेस में शामिल




ट्रंप ने लगा दी वीजा पर रोक, अब दे दी है कुछ श्रेणियों में छूट
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने जून में कुछ श्रेणी के वीजा (VISA) पर कामगारों के अमेरिका में प्रवेश पर साल के अंत तक प्रतिबंध लगा दिया था. हालांकि, इस सप्ताह वीजा की कुछ श्रेणियों में छूट की घोषणा भी कर दी गई है. डे वाइन से संधू से बातचीत के दौरान कारोबार, निवेश और लोगों के आपसी संपर्क जैसे मुद्दों पर चर्चा की. इसके अलावा इस दौरान मजबूत कारोबार, निवेश, लोगों के आपसी संपर्क और आर्थिक महत्व के क्षेत्रों में समझौते पर भी चर्चा हुई. संधू और डे वाइन ने ओहियो में पेशेवर और छात्रों समेत भारतीय समुदाय के एक लाख से ज्यादा सदस्यों के हितों पर भी बात की. डे वाइन ने ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में भारतीय मूल के वैज्ञानिक डॉ. रतन लाल के योगदान की भी सराहना की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज