• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Allahabad-Indian Bank Merger: 1 अक्टूबर से पहले करा लें यह काम, नहीं तो बढ़ सकती है मुश्किलें

Allahabad-Indian Bank Merger: 1 अक्टूबर से पहले करा लें यह काम, नहीं तो बढ़ सकती है मुश्किलें

एक अक्टूबर के बाद अगर कोई पुराना चेकबुक इस्तेमाल करेगा तो पैसे ट्रांसफर नहीं होंगे.

एक अक्टूबर के बाद अगर कोई पुराना चेकबुक इस्तेमाल करेगा तो पैसे ट्रांसफर नहीं होंगे.

पूर्ववर्ती इलाहाबाद बैंक के एमआईसीआर कोड (MICR code) और चेकबुक (Cheque books) 1 अक्टूबर 2021 से बंद हो जाएंगे.

  • Share this:

    नई दिल्ली. अगर आपका बैंक अकाउंट पूर्ववर्ती इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) में है तो ये खबर आपके लिए जरूरी है. दरअसल, इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक (Indian Bank) के साथ मर्जर हो चुका है. ऐसे में बहुत सारी चीजें बदल गई हैं. 1 जुलाई, 2021 से बैंक का आईएफएससी कोड बदल चुका है. वहीं, इलाहाबाद बैंक के एमआईसीआर कोड (MICR Code) और चेकबुक (Cheque Books)  1 अक्टूबर 2021 से बंद हो जाएंगे.

    इंडियन बैंक ने ट्वीट कर एमआईसीआर कोड और चेकबुक से जुड़ा एक अलर्ट ग्राहकों को दिया है. बैंक के ट्वीट में कहा, ”बिना किसी गड़बड़ी के सुचारू बैंकिंग लेनदेन का आनंद लें. पूर्ववर्ती इलाहाबाद बैंक के एमआईसीआर कोड और चेकबुक 1 अक्टूबर 2021 से बंद कर दिए जाएंगे. अपनी नजदीकी ब्रांच से नई चेकबुक प्राप्त करें या इंटरनेट बैंकिंग/मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से आवेदन करें.”

    क्या होता है एमआईसीआर कोड, क्या है इसका महत्व
    एमआईसीआर कोड या मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकॉग्निशन कोड एक 9-अंकीय कोड होता है. यह उन बैंक शाखाओं की पहचान करता है जो (इलेक्ट्रॉनिक क्लियरिंग सिस्टम) में भाग ले रहे हैं. इस कोड में बैंक कोड, खाता विवरण, राशि और चेक नंबर जैसे विवरण शामिल होते हैं. यह कोड एक चेक लीफ के निचले भाग में स्थित हो सकता है. इस 9 अंक के कोड के पहले 3 अंक शहर, अगले 3 अंक बैंक और अंतिम 3 अंक ब्रांच के कोड को दर्शाते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज