Home /News /business /

इस सरकारी बैंक ने ग्राहकों को दिया तोहफा, अब होम-ऑटो लोन की EMI पर होगी इतनी बचत

इस सरकारी बैंक ने ग्राहकों को दिया तोहफा, अब होम-ऑटो लोन की EMI पर होगी इतनी बचत

इंडियन बैंक ने बुधवार को MCLR में 0.30 फीसदी कटौती की घोषणा की है.

इंडियन बैंक ने बुधवार को MCLR में 0.30 फीसदी कटौती की घोषणा की है.

इंडियन बैंक ने नियामकीय सूचना में कहा है कि घटी बयाज दर तीन मई से प्रभावी होगी. इसमें कहा गया है कि बैंक की एम साल की MCLR दर 0.30 फीसदी घटकर मौजूदा 8.10 फीसदी से घटकर 7.80 फीसदी पर आ गई है.

    नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र के इंडियन बैंक (Indian Bank) ने बुधवार को सीमांत लागत आधारित कर्ज की ब्याज दर (MCLR) में 0.30 फीसदी कटौती की घोषणा की है. बैंक ने बाजार में जारी प्रतिस्पर्धा को ध्यान में रखते हुये विभिन्न अवधि के कर्जों पर बयाज दर में कटौती की घोषणा की है.

    कितनी हुईं नई दरें
    इंडियन बैंक ने नियामकीय सूचना में कहा है कि घटी बयाज दर तीन मई से प्रभावी होगी. इसमें कहा गया है कि बैंक की एम साल की MCLR दर 0.30 फीसदी घटकर मौजूदा 8.10 फीसदी से घटकर 7.80 फीसदी पर आ गई है. वहीं एक दिन और एक माह के कर्ज की MCLR दर भी 0.30 फीसदी घटकर क्रमश: 7.50 और 7.55 प्रतिशत पर आ गई है.

    यह भी पढ़ें: दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को लगा झटका! अमेरिका की GDP -4.8% हुई

    इसी प्रकार तीन माह की MCLR दर को संशोधित कर 7.70 फीसदी और छह माह के कर्ज पर MCLR दर को 7.75 फीसदी कर दिया गया है. ये दरें फिलहाल क्रमश 8 फीसदी और 8.05 फीसदी पर हैं. बैंक ने कहा है कि ब्याज दर में यह कटौती बाजार में कम होती ब्याज दरों के अनुरूप है. पिछले महीने रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में कटौती करने के बाद वित्त बाजार में नरमी का रुख बना है. रिजर्व बैंक ने 27 मार्च 2020 को जारी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में रेपो दर को 0.75 फीसदी घटाकर 4.40 फीसदी कर दिया था.

    केनरा बैंक ने भी घटाया था ब्याज दर
    इसके पहले केनरा बैंक (Canara Bank) ने सोमवार को रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (RLLR) में 75 बेसिस प्वाइंट्स यानी 0.75 फीसदी की कटौती की है. इस कटौती के बाद बैंक का RLLR 8.05 फीसदी से घटकर 7.30 फीसदी रह गया. इसके साथ ही बैंक ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट्स (MCLR) घटा दी है. केनरा बैंक ने एमसीएलआर में 35 बेसिस प्वाइंट्स यानी 0.35 फीसदी की कटौती की है. नई दरें 7 अप्रैल से प्रभावी होंगी. सिंडिकेट बैंक का विलय केनरा बैंक में हुआ है.

    यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बीच आज भी इतने रुपये सस्ता हुआ सोना, जानिए क्या है 10 ग्राम का भाव

    कितनी हुई कटौती 
    सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ने एक साल की अवधि वाले कर्ज के लिये 0.35 प्रतिशत, 6 महीने की अवधि वाले कर्ज के लिये 0.30 प्रतिशत, 3 महीने की अवधि के लिये 0.2 प्रतिशत और एक महीने तथा एक दिन के लिये ब्याज में 0.15 प्रतिशत की कटौती की है. बयान के अनुसार रेपो दर से संबद्ध ब्याज दर (RLLR) 0.75 प्रतिशत घटाकर 8.05 प्रतिशत से 7.30 प्रतिशत कर दिया गया है.

    यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बीच आई अच्छी खबर, इस वजह से देश की बेरोजगारी दर में आई गिरावट

    Tags: Bank interest rate, Business news in hindi, RBI

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर