लाइव टीवी

इस साल GDP ग्रोथ 7.2% रहने का अनुमान, इन दो सेक्टर में सुधार से मिलेगा सपोर्ट

News18Hindi
Updated: January 9, 2019, 1:36 PM IST

2018-19 में भारतीय अर्थव्यवस्था का ग्रोथ रेट 7.2 फीसदी रहने का अनुमान है, जो पिछले फिस्कल में 6.7 फीसदी था. एग्रीकल्चर और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में सुधार से ग्रोथ रेट को सपोर्ट मिलेगा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2019, 1:36 PM IST
  • Share this:
भारतीय अर्थव्यवस्था की सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष 2018-19 में 7.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने यह अनुमान लगाया है. इससे पिछले वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 6.7 प्रतिशत रही थी. सीएसओ ने सोमवार को कहा कि कृषि और विनिर्माण क्षेत्र के प्रदर्शन में सुधार से चालू वित्त वर्ष में वृद्धि दर पिछले वित्त वर्ष की तुलना में बेहतर रहने का अनुमान है.

ये भी पढ़ें: 10% सवर्ण आरक्षण पाने के ये होंगे हकदार, जानें किसे मिलेगा फायदा

सीएसओ ने 2018-19 के राष्ट्रीय आय का पहला अग्रिम अनुमान जारी करते हुए कहा, 2018-19 में जीडीपी की वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जो 2017-18 में 6.7 प्रतिशत रही थी. इसमें कहा गया है कि वास्तविक सकल मूल्य वर्द्धन (जीवीए) चालू वित्त वर्ष में 7 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जो 2017-18 में 6.5 प्रतिशत रहा था.


Loading...

ये भी पढ़ें:  SBI ने ग्राहकों को किया अलर्ट! किसी भी बैंक से आए कॉल, तो ऐसे दें जबाव

सीएसओ के आंकड़ों के अनुसार कृषि, वन और मत्स्यपालन जैसी गतिविधियों की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष में 3.8 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 3.4 प्रतिशत रही थी. वहीं विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर 2017-18 के 5.7 प्रतिशत से 2018-19 में 8.3 प्रतिशत पर पहुंचने का अनुमान है. वित्त वर्ष 2016-17 में जीडीपी की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही थी. वहीं 2015-16 में यह 8.2 प्रतिशत थी.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2019, 6:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...