Home /News /business /

तेजी से पटरी पर लौट रही Indian Economy! अगस्‍त 2021 में 11.9 फीसदी बढ़ा औद्योगिक उत्‍पादन

तेजी से पटरी पर लौट रही Indian Economy! अगस्‍त 2021 में 11.9 फीसदी बढ़ा औद्योगिक उत्‍पादन

Industrial Production में अगस्‍त 2021 के दौरान बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

Industrial Production में अगस्‍त 2021 के दौरान बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

एनएसओ के आंकड़ों के मुताबिक, अगस्त 2021 में मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर के उत्पादन की वृद्धि दर 9.7 फीसदी रही है. वहीं, खनन क्षेत्र का उत्पादन 23.6 फीसदी और बिजली क्षेत्र का 16 फीसदी बढ़ा है. अगस्त 2020 में औद्योगिक उत्पादन 7.1 फीसदी घटा था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के बाद अब देश की अर्थव्‍यवस्‍था (Indian Economy) के पटरी पर लौटने के मजबूत संकेत मिल रहे हैं. राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश के औद्योगिक उत्पादन (IIP) में अगस्त 2021 के दौरान 11.9 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. वहीं कोयला, कच्चा तेल और इस्पात समेत 8 बुनियादी क्षेत्र के उद्योगों के उत्पादन (Industrial Production) में इस दौरान सालाना आधार पर 11.6 फीसदी की वृद्धि हुई है. पिछले साल अगस्त महीने में बुनियादी क्षेत्र के उद्योगों के उत्पादन में 6.9 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी.

    खनन क्षेत्र का 23.6% तो बिजली क्षेत्र का उत्‍पादन 16% बढ़ा
    एनएसओ के आंकड़ों के मुताबिक, अगस्त 2021 में मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर के उत्पादन की वृद्धि दर 9.7 फीसदी रही है. वहीं, खनन क्षेत्र का उत्पादन 23.6 फीसदी और बिजली क्षेत्र का 16 फीसदी बढ़ा है. अगस्त 2020 में औद्योगिक उत्पादन 7.1 फीसदी घटा था. चालू वित्त वर्ष के पहले पांच महीने यानी अप्रैल-अगस्त 2021 के दौरान आईआईपी में 28.6 फीसदी की वृद्धि दर्ज हुई है. पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में आईआईपी में 25 फीसदी की बड़ी गिरावट आई थी. कोरोना वायरस महामारी की वजह से पिछले साल मार्च से औद्योगिक उत्पादन प्रभावित हुआ. उस समय इसमें 18.7 फीसदी की गिरावट आई थी. अप्रैल 2020 में लॉकडाउन की वजह से औद्योगिक गतिविधियां प्रभावित होने से उत्पादन 57.3 फीसदी घटा था.

    ये भी पढ़ें- ICICI Bank का फेस्टिवल ऑफर! ‘होम उत्‍सव’ के तहत सस्‍ती दरों पर मिलेगा होम लोन, चेक करें डिटेल्‍स

    किस-किस सेक्‍टर का उत्‍पादन बढ़ा, किसके उत्‍पादन में कमी
    औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली का 40.27 फीसदी हिस्‍सा है. बता दें कि अगस्‍त 2021 में लगातार तीसरे महीने बुनियादी क्षेत्र उद्योगों में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. आंकड़ों के अनुसार कोयला (Coal), प्राकृतिक गैस (Natural Gas), रिफाइनरी उत्पादों, इस्पात (Steel), सीमेंट (Cement) और बिजली (Electricity) का उत्पादन अगस्त 2021 में सालाना आधार पर बढ़ा है. दूसरी तरफ कच्चा तेल (Crude Oil) और उवर्रक उद्योगों (Fertilizers Industry) के उत्पादन में गिरावट आई है.

    ये भी पढ़ें – हवाई यात्रियों के लिए अच्‍छी खबर! 18 अक्‍टूबर 2021 से 100 फीसदी यात्रियों के साथ उड़ान भरेंगी Domestic Flights

    रोजगार के मामले में भी मिल रहे हैं अच्‍छे संकेत
    औद्योगिक उत्पादन में बढ़ेातरी के चलते रोजगार के मोर्चे पर भी अच्छे संकेत मिल रहे हैं. कोरोना की दूसरी लहर के बाद औद्योगिक गतिविधियों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग के आर्थिक सलाहकार कार्यालय (DPIIT) ने अगस्त 2021 के लिए आठ कोर उद्योगों (ICI) का सूचकांक जारी किया है. आठ कोर इंडस्ट्रीज का संयुक्त सूचकांक जुलाई 2021 में 134 पर था. इसमें जुलाई 2020 के मुकाबले 9.4 फीसदी की वृद्धि हुई थी. साफ है कि अगर अगस्‍त 2021 में औद्योगिक उत्‍पादन में बढ़ोतरी हुई तो आर्थिक गतिविधियों में भी उछाल आया है. इससे एकबार फिर लोगों को रोजगार के मौके मिल रहे हैं.

    Tags: Business news in hindi, Economic growth, Indian economy, Industrial units

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर