• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • किसने कहा 5 फीसदी वाली आर्थिक सुस्ती, सबसे तेज है अर्थव्यवस्था की रफ्तार: सरकार

किसने कहा 5 फीसदी वाली आर्थिक सुस्ती, सबसे तेज है अर्थव्यवस्था की रफ्तार: सरकार

अनुराग ठाकुर रिठाला विधानसभा में बीजेपी प्रत्याशी मनीष चौधरी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे.

अनुराग ठाकुर रिठाला विधानसभा में बीजेपी प्रत्याशी मनीष चौधरी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे थे.

संसद के शीतकालीन सत्र (Winter Session) के पहले दिन प्रश्नकाल में बोलते हुए अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) 5 फीसदी वाली आर्थिक सुस्ती से नहीं गुजर रही है. हम सबसे तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश की अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को लेकर केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा कि भारत 5 फीसदी की आर्थिक सुस्ती से नहीं जूझ रहा है. देश की अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से आगे बढ़ रही है. संसद के शीतकालीन सत्र (Winter Session) के पहले दिन प्रश्नकाल में बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार द्वारा अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं. इसमें बैंकों के विलय (Banks Merger) से लेकर उद्योगों को टैक्स छूट तक शामिल है. आम आदमी पार्टी (AAP) के सांसद भगवत मान सिंह द्वारा अर्थव्यवस्था में सुस्ती को लेकर उठाए गए सवाल के जवाब में ठाकुर ने कहा, 'अर्थव्यवस्था में 5 फीसदी की गिरावट नहीं है. आपको यह आंकड़ा कहां से मिला? हमें भी दिखएं'

    2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत
    केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि दुनियाभर के कई देशों में आर्थिक सुस्ती का दौर चल रहा है, लेकिन इसके बावजूद भारत अभी भी तेजी से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना हुआ है. उन्होंने कहा, '2025 तक भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा.' इस दौरान बीते कुछ समय में केन्द्र सरकार द्वारा आर्थिक मोर्चे पर उठाए गए कुछ बड़े कदमों के बारे में भी जानकारी दी.

    ये भी पढ़ें: मोदी सरकार के एक फैसले से बांग्लादेश के निकले आंसू, जानिए कैसे
     बैंकिंग सेक्टर में सरकार की विशेष नजर
    उन्होंने कहा कि कई छोटे बैंकों को बड़े बैंकों में विलय किया गया है. सरकार का लक्ष्य है कम से कम 4 बैंकों को पूरी तरह से मजबूत किया जाए और सुनिश्चित किया जाए कि आर्थिक गतिविधी में तेजी आए. उन्होंने बताया कि कालेधन को लेकर सरकार ने कई बड़े कदम उठाए हैं. नोटबंदी (Demonetization) और GST के बाद टैक्सपेयर्स (Taxpayers) की संख्या में इजाफा हुआ है.


    G-20 देशों में भारत का सबसे बेहतर प्रदर्शन
    राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (CSO) के आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि साल 2014-19 के बीच में जीडीपी ग्रोथ (GDP Growth) 7.5 फीसदी रही है, जो कि G-20 देशों में सबसे अधिक है. वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक (WEO) 2019 में कहा गया है कि दुनियाभर के आउटपुट और व्यापार में सुस्ती देखने को मिल सकती है. इस रिपोर्ट में हाल में हल्की गिरावट के बाद भी सभी G-20 देशों में भारत का आउटलुक सबसे बेहतर है.

    ये भी पढ़ें: मनमोहन सिंह ने बताई आर्थिक स्थिति बिगड़ने की वजह, सरकार को उबरने के उपाय बताए
     बीते 5 साल में सरकार ने उठाए कई बड़े कदम
    ठाकुर ने कहा कि बीते पांच साल में सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं. इनमें इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड 2016 भी एक महत्वपूर्ण कदम रहा है. इस दौरान सरकार के कई रिफॉर्म की वजह से देश में निवेश का माहौल बेहतर हुआ है. 2017 में वस्तु एवं सेवा कर यानी जीएसटी लागू किए जाने के बाद देश में ईज ऑफ डूईंग बिजनेस बेहतर हुआ है.


    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज