चीन में प्‍लेग के मामले सामने आने पर आनंद महिंद्रा चिंतित! कहा-अब सहन नहीं होतीं ऐसी खबरें

चीन में प्‍लेग के मामले सामने आने पर आनंद महिंद्रा चिंतित! कहा-अब सहन नहीं होतीं ऐसी खबरें
महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने चीन के बयन्‍नूर में ब्‍यूबोनिक प्‍लेग के मामले सामने आने पर चिंता जताई है.

चीन (China) के बयन्‍नुर में ब्‍यूबोनिक प्‍लेग (Bubonic plague) के दो मामले सामने आने के बाद हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. प्‍लेग इंसान से इंसान में फैलने में सक्षम होता है. इस पर भारतीय उद्योगपति आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ने चिंता जताई है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना संक्रमण (Coronavirus) ने पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है. दुनियाभर में संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. अभी तक कोविड-19 की ना तो कोई वैक्‍सीन तैयार हो पाई है और ना ही कोई कारगर इलाज ढूंढा जा सका है. इसी बीच चीन (China) से एक और डराने वाली खबर सामने आई है. उत्तरी चीन के एक शहर में रविवार को प्लेग (Plague) के दो मामले सामने आए. इसके वहां बाद हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. इस पर भारतीय उद्योगपति और महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ने कहा कि अब मानवजाति पर रहम होना चाहिए. उन्‍होंने कहा कि अब ऐसी खबरें सहन नहीं हो पा रही हैं. मैं ऐसे मामलों को अब और बर्दाश्‍त नहीं कर सकता हूं.

इंसान से इंसान में आसानी फैल सकता है प्‍लेग
चीनी मीडिया के मुताबिक, अभी ब्‍यूबोनिक प्‍लेग (Bubonic plague) दो मामले सामने आए हैं. दरअसल, ये बीमारी इंसान से इंसान में फैलने में सक्षम है. इसलिए कई और मामले सामने आने की आशंका है. इसके चलते शहर में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. चीन की सरकारी मीडिया पीपुल्स डेली ऑनलाइन के अनुसार, आंतरिक मंगोलियाई स्वायत्त क्षेत्र बयन्‍नुर ने प्लेग की रोकथाम और नियंत्रण के लिए तीसरे स्तर की चेतावनी जारी की है.

ये भी पढ़ें- नहीं मिल रहे लेबर! मजदूरों को वापस काम पर बुलाने के लिए फ्लाइट टिकट, खाना और फ्री रहने को दे रही हैं कंपनियां



बयन्‍नुर में 2020 के अंत तक रहेगी चेतानवी
बयन्‍नुर के अस्पताल में शनिवार को ब्यूबोनिक प्लेग के मामले सामने आने के बाद स्थानीय स्वास्थ्य विभाग ने घोषणा की है कि चेतावनी 2020 के अंत तक जारी रहेगी. स्थानीय स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि इस समय शहर में मानव प्लेग महामारी फैलने का खतरा है. जनता को आत्मरक्षा के लिए जागरूकता बढ़ानी चाहिए और असामान्य स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में तत्काल जानकारी देनी चाहिए. सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने 1 जुलाई को कहा था कि पश्चिम मंगोलिया के खोड प्रांत में ब्यूबोनिक प्लेग के दो संदिग्ध मामले सामने आए थे, जिनकी प्रयोगशाला जांच में पुष्टि हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading