रेलवे ने अब यहां शुरू की ये सर्विस, अब तक स्पेशल ट्रेन में बुक हुए 2 लाख से ज्यादा टिकट

रेलवे ने अब यहां शुरू की ये सर्विस, अब तक स्पेशल ट्रेन में बुक हुए 2 लाख से ज्यादा टिकट
1 जून से होगा पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन (सांकेतिक चित्र)

रेलवे (Indian Railways) ने जानकारी दी है कि 12 मई से चल रही विशेष ट्रेनों के लिए अब तक 2,34,411 यात्रियों ने टिकट बुक किए हैं. इससे अब तक रेलवे को किराए के रूप में कुल 45.20 करोड़ रुपए मिले हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस संकट (Coronavirus) में रेलवे (Indian Railways) ने बढ़-चढ़कर अपनी भागीदारी दिखाई है. लोगों की मदद के लिए रेलवे की स्पेशल पार्सल सर्विस जारी  है. रेलवे के द्वारा देश की 60 रूटों पर 100 से ज्यादा स्पेशल पार्सल ट्रेनें चलाई जा रही है जिसमें दवाइयां और जरूरी सामान एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचाया जा रहा है. रेलवे ने अब कुछ और जगहों पर पार्सल सेवाएं शुरू करने का ऐलान किया है.

अब यहां शुरू हुई पार्सल सर्विस

रेलवे ने जानकारी दी है कि 12 मई से चल रही विशेष ट्रेनों के लिए अब तक 2,34,411 यात्रियों ने टिकट बुक किए हैं. इससे अब तक रेलवे को किराए के रूप में कुल 45.20 करोड़ रुपए मिले हैं.रेलवे की पार्सल सर्विस अब मुंबई, पुणे, नागपुर स्टेशन पर भी उपलब्ध होगी.




आपको बता दें कि भारतीय रेलवे ने आवश्यक वस्तुओं के परिवहन से करोड़ों रुपए की कमाई की है. अप्रैल में रेलवे की ओर जारी आंकड़ों के मुताबिक, 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान विशेष पार्सल ट्रेनें चलाई और 20,400 टन खेप को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाया, जिससे उसे कुल 7.54 करोड़ रुपए की कमाई हुई है.

रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार विशेष पार्सल वैन को ई-कॉमर्स संस्थाओं और राज्य सरकारों सहित अन्य ग्राहकों द्वारा बड़े पैमाने पर परिवहन के लिए उपलब्ध कराया गया था. उन्होंने कहा, इसके बाद रेलवे ने चुनिंदा मार्गों पर टाइम-टैबलेड (समयबद्ध) स्पेशल पार्सल ट्रेनें चलाने का फैसला किया, ताकि आवश्यक वस्तुओं की बिना किसी रुकावट के सप्लाई की जा सके.

रेलवे ने 1490 करोड़ रुपये ग्राहकों को लौटाए-न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, लॉकडाउन से पहले बुक किए गए 94 लाख टिकट रेलवे ने कैंसिल किए और 1490 करोड़ रुपये ग्राहकों को वापस किए हैं. लॉकडाउन के पहले चरण में 22 मार्च से 14 अप्रैल के बीच योजनाबद्ध तरीके से 830 करोड़ रुपये वापस किए गए. 25 मार्च को लॉकडाउन की शुरुआत से तीन दिन पहले 22 मार्च से ही नियमित यात्री सेवाओं समेत सभी गैर-जरूरी ट्रेनों को निलंबित कर दिया गया था.

(दिपाली नंदा, संवाददाता, CNBC आवाज़)

ये भी पढ़ें-इस दिन से स्पेशल ट्रेनों में मिलेगी वेटिंग टिकट, लेकिन ये है रेलवे की शर्त
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज