रेलवे ने यात्रियों की इस परेशानी को किया दूर! अब रोबोट ‘कैप्टन अर्जुन’ करेगा स्टेशन पर कोरोना पॉजिटिव की पहचान

रेलवे ने यात्रियों की इस परेशानी को किया दूर! अब रोबोट ‘कैप्टन अर्जुन’ करेगा स्टेशन पर कोरोना पॉजिटिव की पहचान
रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करेगा ये रोबोट

कोरोना संक्रमण (Covid-19) के प्रसार को रोकने के लिए मध्य रेलवे ने ‘कैप्टन अर्जुन’ (Captain Arjun) रोबोट बनाया है, ये रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करेगा.

  • Share this:
मुंबई. देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना (Covid-19) मामलों को देखते पुणे (Pune) में रेलवे सुरक्षा बल (RPF) ने शुक्रवार को एक रोबोट लॉन्च किया है, यह रोबोट रेलवे स्टेशन पर पैसेंजर की थर्मल स्क्रीनिंग करेगा. इस रोबोट को रेलवे ने ‘कैप्टन अर्जुन’ (Captain Arjun) नाम दिया है. दरअसल लॉकडाउन 4.0 (Lockdown) के दौरान से ही यात्रियों की परेशानियों को देखते हुए रेल मंत्रालय ने कई स्पेशल ट्रेन चलाई जिसके चलते स्टेशनों पर एक बार फिर भीड़ नजर आने लगी. ये रोबोट किसी भी यात्री को संदिग्ध को दूसरे यात्रियों के संपर्क में आने से बचाएगा.

रोबोट का उद्घाटन एक ऑनलाइन समारोह में किया गया, जिसका उदघाटन आरपीएफ के महासंचालक अरुण कुमार ने आज पुणे में किया. इस समारोह में मध्य रेलवे के महाप्रबंधक संजीव मित्तल, प्रमुख मुख्य सुरक्षा आयुक्त अतुल पाठक और पुणे मंडल रेल प्रबंधक रेणु शर्मा शामिल थे. मध्य रेलवे के महाप्रबंधक संजीव मित्तल ने कहा, "रोबोटिक कैप्टन अर्जुन किसी भी संभावित संक्रमण से यात्रियों और कर्मचारियों की रक्षा करेगा और इसकी निगरानी सुरक्षा बढ़ाएगा."





अरुण कुमार ने रोबोट के बारे में बताया कि इसे बनाने का मुख्य कारण लोगों में कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूकता फैलाना है साथ ही यात्रियों और आरपीएफ के जवानों को एक दूसरे के संपर्क में आने से रोकना है. दरअसल पिछले कुछ दिनों में सेना के जवान कोरोना संक्रमित हो गए जिसमें सबसे ज्यादा महाराष्ट्र राज्य से हैं.
ये भी पढ़ें : कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर इस कंपनी का बड़ा ऐलान, कहा- अगले महीने तक...

कैसे काम करता है ‘कैप्टन अर्जुन’ रोबोट
ये स्टेशन में आने-जाने वाले सभी पैसेंजर की थर्मल स्क्रीनिंग करेगा. इसमें यात्रियों की स्क्रीनिंग करने के लिए मोशन सेंसर और अत्याधुनिक कैमरा लगया गया है. साथ ही इसमें कोविड-19 पर जागरूकता संदेश फैलाने के लिए स्पीकर लगाए हैं. कैप्टन अर्जुन के पास सेंसर-आधारित सैनिटाइजर और मास्क डिस्पेंसर भी हैं और वे चल सकते हैं. अगर किसी यात्री के पास मास्क नहीं है ये रोबोट यात्री के पास आकर उसे मास्क देगा और हाथो को सैनिटाइज भी करेगा. इतना ही नहीं स्टेशन के आस पास होने वाली अन्य सामाजिक गतिविधियों पर भी नज़र रखेगा.

टेम्प्रेचर ज्यादा आने पर बजेगा सेंसर
किसी भी यात्री के शरीर के तापमान को जांचने में इसे केवल 5 सेकेंड का समय लगता है. यदि कोई यात्री कोरोना से संक्रमित होगा या उसके शरीर का तापमान सामान्य से ज़्यादा होगा तो इसमें लगे सेंसर बजने लगेंगे. इसमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भी इस्तेमाल किया है. अरुण कुमा ने बताया गया कि इसे फिलहाल पुणे स्टेशन लगाया गया है लेकिन जल्द ही इसे कई स्टेशनों पर रखा जाएगा ताकि संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सके.

ये भी पढ़ें : बड़ी खबर! रेलवे ने कई स्पेशल ट्रेनों का बदला समय, UP-बिहार जानें वाली भी हैं शामिल- देखें नया टाइम टेबल

(दीपाली नंदा, CNBC आवाज़)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading