Home /News /business /

रेलवे से लगा रहा देश में पर्यटन को पंख

रेलवे से लगा रहा देश में पर्यटन को पंख

भारत सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने की लगातार कोशिश कर रही है. इसी सिलसिले में रेलवे की तरफ से देश के कई इलाकों में विस्टाडोम कोच यानी कांच की छत और दीवार वाली कोच को लगाकर पर्यटकों को लुभाया जा रहा है. नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे यानी भारत के पूर्वोत्तर इलाके में 3 रूट पर विस्टाडोम कोच वाली ट्रेन चलाई जा रही है.

भारत सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने की लगातार कोशिश कर रही है. इसी सिलसिले में रेलवे की तरफ से देश के कई इलाकों में विस्टाडोम कोच यानी कांच की छत और दीवार वाली कोच को लगाकर पर्यटकों को लुभाया जा रहा है. नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे यानी भारत के पूर्वोत्तर इलाके में 3 रूट पर विस्टाडोम कोच वाली ट्रेन चलाई जा रही है.

भारत सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने की लगातार कोशिश कर रही है. इसी सिलसिले में रेलवे की तरफ से देश के कई इलाकों में विस्टाडोम कोच यानी कांच की छत और दीवार वाली कोच को लगाकर पर्यटकों को लुभाया जा रहा है. नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे यानी भारत के पूर्वोत्तर इलाके में 3 रूट पर विस्टाडोम कोच वाली ट्रेन चलाई जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. भारत सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने की लगातार कोशिश कर रही है. इसी सिलसिले में रेलवे की तरफ से देश के कई इलाकों में विस्टाडोम कोच यानी कांच की छत और दीवार वाली कोच को लगाकर पर्यटकों को लुभाया जा रहा है. नॉर्थ फ्रंटियर रेलवे यानी भारत के पूर्वोत्तर इलाके में 3 रूट पर विस्टाडोम कोच वाली ट्रेन चलाई जा रही है. इनमें से एक गुवाहाटी से न्यू जलपाईगुड़ी के बीच चलती है, वहीं दूसरी ट्रेन सिलीगुड़ी से अलीपुरद्वार के बीच चल रही जबकि तीसरी और गुवाहाटी और हाफलोंग के बीच चल रही है.

पूवोत्तर भारत का इलाका प्राकृतिक सौंदर्य से भरा हुआ है. खासकर असम में पहाड़ों, घाटियों, बिल यानी तालाबों की खूबसूरती का आनंद लेने के लिए vistadom कोच की मांग लगातार बढ़ रही है. यह इलाका सर्दियों में साइबेरियन बर्ड्स का भी बसेरा होता है. इसलिए रेलवे की तरफ से दो और रूट पर vistadom को चलाने की योजना बनाई जा रही है इनमें से एक रोड डिब्रूगढ़ से अरुणाचल के नाहरलागुन तक है वही दूसरा गुवाहाटी से नाहरलागुन के बीच प्रस्तावित है. यानी रेलवे से भारत में पर्यटन को बढ़ावा देने की कोशिश लगातार जारी है.

रेलवे में विशाखापत्तनम के पास अराकू वैलीकालका- शिमला टॉय ट्रेनमुम्बई- गोआकश्मीर घाटीनीलगिरी रेलवे जैसे कई रूट्स पर vistadom कोच लगाकर पर्यटकों को सैर सपाटे का अलग आनंद उठाने का मौका भी दिया जा रहा है.

देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रेल देश भर में करीब दर्जन भर रुट्स पर vistadom यानी कांच की छत और दीवार वाले कोच ट्रैन चला रही है. अपनी खूबसूरती के लिए मशहूर पूर्वोत्तर राज्यों में भी 3 रुट्स पर विस्ताडोम कोच ट्रैन चलाई जा रही है, यहाँ के गुवाहाटी से Haflong रूट पर जायज़ लिया हमारी सवांददाता दीपाली नन्दा ने.

नार्थ फ्रंटियर रेलवे 3 रुट्स पर vistadom कोच ट्रेन चला रहा है. न्यू जलपाईगुड़ी से darjelling, सिलीगुड़ी से अलीपुरद्वारऔर गुवाहाटी से haflong के बीच चलाई जा रही है. यह सफर 172 किलोमीटर का है जिसका किराया 1033 रुपये है. Naharlagoon तक किया जाएगा इस रूट का विस्तार

Tags: Business news in hindi, Indian railway, Indian Railways

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर