बड़ी खबर! अनलॉक 4 के तहत 100 नई स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी में रेलवे

बड़ी खबर! अनलॉक 4 के तहत 100 नई स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी में रेलवे
100 नई स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी में रेलवे

Indian Railway Special Trains: बता दें कि देश में आज से अनलॉक 4 शुरू हो गया है. अभी रेलवे स्पेशल ट्रेन के नाम पर 230 एक्‍सप्रेस ट्रेन चला रही है जिनमें 30 राजधानी भी शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 2, 2020, 7:42 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना संकट (Coronavirus Crisis) के दौरान ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है. भारतीय रेलवे (Indian Railway) अनलॉक 4 (Unlock 4) के तहत स्पेशल ट्रेनें चलाएगी. रेलवे 100 के करीब नई स्पेशल ट्रेन चलाने की तैयारी कर रही है. इसके लिए रेलवे राज्यों के साथ विचार-विमर्श जारी है. गृह मंत्रालय से हरी झंडी मिलने के बाद चलाई जाएगी नई स्पेशल ट्रेनें. बता दें कि देश में आज से अनलॉक 4 शुरू हो गया है. अभी रेलवे स्पेशल ट्रेन के नाम पर 230 एक्‍सप्रेस ट्रेन चला रही है जिनमें 30 राजधानी भी शामिल हैं.

जिन 100 ट्रेनों को चलाने की तैयारी है, उन्‍हें भी 'स्‍पेशल' नाम ही रखा जाएगा. यह ट्रेनें इंटरस्‍टेट और इंट्रास्‍टेट चलेंगी. रेल मंत्रालय पहले से ही चरणबद्ध ढंग से रेल सेवा शुरू करने की बात कर चुका है. त्योहारों का मौसम शुरू चुका है. दशहरा और दिवाली को देखते हुए रेलवे नई स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी कर रहा है. जिससे यात्रियों की भीड़ को कंट्रोल किया जा सके और कोरोना काल में यात्री सुरक्षित यात्रा कर सकें.

यह भी पढ़ें- अब एक से ज्यादा Bank Account खोलना पड़ सकता है भारी, आप आ सकते हो इनकम टैक्स की रडार पर



मार्च से बंद है ट्रेनों का आवागमन
कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 22 मार्च से पैसेंजर ट्रेनों और मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था. यह पहला मौका है जब देश में रेल सेवाएं रोकी गई हैं. हालांकि देश में जहां तहां फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए 1 मई से श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई गई थीं. 12 मई से राजधानी के मार्ग पर कुछ स्पेशल ट्रेनें चलाई गई थीं और फिर 1 जून से 100 जोड़ी ट्रेनें शुरू की गई थीं.

महंगा होने जा रहा ट्रेन से सफर करना
आने वाले दिनों में आपके लिए ट्रेन में सफर करना पहले से भी महंगा होने जा रहा है. यात्रियों को बड़े रेलवे स्टेशनों से ट्रेन पकड़ने के लिए स्टेशन यूजर फीस (Station User Fees) पहले की तुलना में ज्यादा चुकानी पड़ेगी. रेलवे इस कदम को यूजर डेवलपमेंट फीस (UDF) की तर्ज पर उठा रहा है. यह उन रेलवे स्टेशनों (Railway Station) के लिए होगा, जिन्हें प्राइवेट कंपनियों द्वारा रिडेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत नये सिरे से तैयार किया जाएगा. इन स्टेशनों पर सभी तरह की आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी. ये प्राइवेट कंपनियां ही इन स्टेशनों का कॉमर्शियल ऑपरेशन करेंगी. (दिपाली नंदा, संवाददाता- CNBC आवाज़)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज