Home /News /business /

Railway का बड़ा फैसला, ट्रेन में रात को मोबाइल पर तेज म्‍यूजिक सुनने या शोर-शराबा करने पर हो सकती है कार्रवाई

Railway का बड़ा फैसला, ट्रेन में रात को मोबाइल पर तेज म्‍यूजिक सुनने या शोर-शराबा करने पर हो सकती है कार्रवाई

आदेश तत्‍काल प्रभाव से लागू. सांकेतिक फोटो

आदेश तत्‍काल प्रभाव से लागू. सांकेतिक फोटो

Indian Railway News: यात्रियों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए Indian Railway ने बड़ा फैसला लिया है. यात्रियों द्वारा शिकायत होने पर रेलवे ऐसे लोगों पर कार्रवाई करेगा, जो तेज आवाज में गाने सुन रहे हैं या बातें कर रहे हैं. इतना ही नहीं, ट्रेन स्‍टाफ की जवाबदेही भी तय हो सकेगी. इस संबंध में Ministry of Railways ने सभी जोनों को आदेश जारी कर दिया है ताकि तत्‍काल प्रभाव से आदेश लागू हो सकें.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. ट्रेन में सफऱ कर रहे यात्रियों की अब रात में नींद डिस्‍टर्ब नहीं होगी. आपके आसपास कोई भी सहयात्री (Train Passenger) मोबाइल फोन पर तेज आवाज में बात नहीं कर सकेगा, न ही तेज आवाज में म्‍यूजिक सुन सकेगा. यात्रियों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए इंडियन रेलवे (Indian Railway) ने बड़ा फैसला लिया है. यात्रियों द्वारा शिकायत करने पर रेलवे ऐसे लोगों पर कार्रवाई करेगा. इतना ही नहीं ट्रेन स्‍टाफ की जवाबदेही भी तय की जा सकेगी. इस संबंध में रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) ने सभी जोनों को आदेश जारी कर दिया है, ताकि तत्‍काल प्रभाव से आदेश लागू हो सके.

रेलवे मंत्रालय के अनुसार अक्सर यात्री शिकायत करते थे कि सह यात्री मोबाइल पर तेज तेज बातें करते हैं, या फिर म्‍यूजिक सुनते हैं. इस तरह की भी शिकायत आती थी कि कोच में बैठा कोई ग्रुप रात में जोर जोर से डिस्कशन कर रहा है. यह भी श्किायत होती आती थी कि रेलवे का स्‍कॉर्ट या फिर मेंटीनेंस स्‍टाफ गश्‍त के दौरान तेज तेज बातें करता हुआ निकलता है, जिससे यात्रयों की नींद खराब होती है. इसके अलावा रात में लाइट जलाने को लेकर भी विवाद होता था, इसकी भी शिकायत रेलवे को मिलती थी.

ये भी पढ़ें – Indian Railways: आज 13 ट्रेनें समय से रहेंगी लेट, अगर आपने भी बनाया है कहीं जाने का प्लान तो चेक करें ये लिस्ट

समाधान नहीं होने पर रेलवे स्‍टाफ की होगी जवाबदेही
यात्रियों को होने वाली इस तरह की परेशानी को ध्‍यान में रखते हुए इंडियन रेलवे ने बड़ा फैसला लेते हुए आदेश जारी कर दिया है. अब कोई भी पैसेंजर इससे संबंधित शिकायत दर्ज करा सकता है, जिस पर ट्रेन स्‍टाफ तत्‍काल कार्रवाई करेगा. शिकायत का समाधान न होने पर अब रेलवे स्‍टाफ की जवाबदेही भी तय की जा सकेगी. ये आदेश तत्‍काल प्रभाव से लागू कर दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें – PM Kisan : सरकार ने बदले नियम, अगली किस्त चाहिए तो तुरंत निपटा लें यह काम

रात 10 बजे  के बाद के लिए ये हैं गाइड लाइन
-कोई भी यात्री इतनी तेज आवाज में मोबाइल पर बात नहीं करेगा या तेज म्‍यूजिक नहीं सुनेगा, जिससे सहयात्री डिस्‍टर्ब हो.
-रात में नाइट लाइट को छोड़कर सभी लाइट बंद करनी हैं, जिससे सहयात्री की इससे नींद खराब न हो.
– ग्रुप में चलने वाले यात्री ट्रेन में देर रात तक अब बातें नहीं कर पाएंगे. सह यात्री द्वारा शिकायत करने पर कार्रवाई की जा सकेगी.
-रात में चेकिंग स्‍टाफ, आरपीएफ, इलेक्ट्रीशियन, कैटरिंग स्‍टाफ और मेंटीनेंस स्‍टाफ शांतिपूर्ण ढंग से अपना काम करेंगे, जिससे यात्रियों को परेशानी न हो.
-इसके साथ ही 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों, दिव्‍यांगजन और अकेली महिलाओं को रेल स्‍टाफ जरूरत पड़ने पर तत्‍काल मदद करेगा.

Tags: Indian Railways, Train

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर