Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    केंद्र के खास प्‍लान से बढ़ेगी किसानों की आय! सब्‍जी-फलों के रेलभाड़े में लागू की 50 फीसदी छूट

    केंद्र सरकार ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए खास प्‍लान लागू कर दिया है.
    केंद्र सरकार ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए खास प्‍लान लागू कर दिया है.

    भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने आज नागपुर से दिल्ली के आदर्शनगर के लिए चौथी किसान स्‍पेशल ट्रेन (Kisan Special Train) रवाना की. इससे पहले महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर, आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से दिल्ली के आदर्शनगर और बेंगलुरू से दिल्ली के बीच भी किसान ट्रेन चलाई जा रही हैं. केंद्र इन ट्रेनों के जरिये किसानों की आय (Farmers' Income) बढ़ाने के साथ आम लोगों को सस्‍ती फल-सब्‍जी मुहैया कराना चाहता है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 14, 2020, 11:13 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्‍ली. किसानों की आमदनी (Farmers' Income) बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार लगातार कदम उठा रही है. केंद्र सरकार ने कल यानी 13 अक्‍टूबर को देर शाम किसान रेल (Kisan Rail) के जरिये अधिसूचित सब्जियों और फलों (Vegetable & Fruits) के परिवहन पर 50 फीसदी सब्सिडी (Subsidy) देना का ऐलान किया. इसके बाद किसानों को दी जाने वाली सब्सिडी का ये फैसला आज यानी 14 अक्‍टूबर 2020 से ही लागू कर दिया गया है. आसान शब्‍दों में समझें तो अब भारतीय रेल (Indian Railways) से सब्जियों और फलों के परिवहन (Transportation) पर किसानों को पहले के मुकाबले 50 फीसदी कम किराया (Low Cost) चुकाना होगा. इससे किसानों की आय में सीधी बढ़ोतरी होगी.

    कृषि मंत्रालय और राज्‍यों की सिफारिश पर शामिल किए जाएंगे और फल-सब्‍जी
    केंद्र सरकार ने परिवहन पर 50 फीसदी सब्सिडी के दायरे में आम, केला, अमरूद, कीवी, लीची, पपीता, मौसमी, नारंगी, किनू, नींबू, अन्नानास, अनार, कटहल, सेव, बादाम, ओनला, पेशन फ्रूट और नाशपाती को शामिल किया है. वहीं, सब्जियों में फ्रेंच बीन, करेला, बैंगन, शिमला मिर्च, गाजर, फूल गोभी, हरी मिर्च, भिंडी, खीरा, मटर, लहसून, प्याज, आलू और टमाटर के परिवहन पर किसानों को तुरंत सब्सिडी देने का प्रावधान किया गया है. कृषि मंत्रालय (Agriculture Ministry) या राज्य सरकारों (State Government) की सिफारिशों के आधार पर इस सूची में नये फलों व सब्जियों को शामिल किया जा सकता है.

    ये भी पढ़ें- देश की इस टेक कंपनी ने कर्मचारियों को दिया तोहफा! बढ़ाएगी वेतन, देगी स्‍पेशल बोनस और 100% Variable Pay
    किसानों और आम उपभोक्‍ताओं को फायदा देने के लिए शुरू हुईं किसान रेल


    किसानों की आमदनी बढ़ाने, बाजारों तक कृषि उपज की पहुंच बनाने और उपभोक्ताओं को सस्ता फल व सब्जी उपलब्‍ध कराने के लिए सरकार ने किसान स्‍पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया. अब तक चार किसान ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई जा चुकी है. महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बीच देश की पहली किसान ट्रेन 7 अगस्त को शुरू की गई थी. इसके बाद 9 सिंतबर को दूसरी किसान ट्रेन आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से दिल्ली के आदर्शनगर के बीच चलाई गई. फिर तीसरी किसान रेल बेंगलुरू से दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन के बीच चलाई गई. वहीं, आज नागपुर से दिल्ली के आदर्शनगर के लिए चौथी किसान ट्रेन रवाना की गई.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज