Home /News /business /

Hydrogen Fuel Cell based Train: भारत में चलेगी पहली हाइड्रोजन फ्यूल सेल आधारित ट्रेन, जानिये किस रूट पर चलेगी ये ट्रेन

Hydrogen Fuel Cell based Train: भारत में चलेगी पहली हाइड्रोजन फ्यूल सेल आधारित ट्रेन, जानिये किस रूट पर चलेगी ये ट्रेन

भारतीय रेलवे की ओर से देश की पहली हाइड्रोजन फ्यूल ट्रेन हरियाणा के सोनीपत-जींद सेक्शन पर चलाने की तैयारी है. (File Photo)

भारतीय रेलवे की ओर से देश की पहली हाइड्रोजन फ्यूल ट्रेन हरियाणा के सोनीपत-जींद सेक्शन पर चलाने की तैयारी है. (File Photo)

Hydrogen Fuel Cell based Train: भारतीय रेलवे की ओर से देश की पहली हाइड्रोजन फ्यूल ट्रेन हरियाणा के सोनीपत-जींद सेक्शन (Sonipat-Jind Section) पर चलाने की तैयारी है. नार्दन रेलवे की ओर से कुल 89 किलोमीटर लंबे सोनीपत-जींद सेक्शन पर इस ट्रेन को चलाने के लिए टेंडर प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारतीय रेलवे (Indian Railways) की ओर से अब ट्रेनों को हाइड्रोजन फ्यूल (Hydrogen Fuel) से चलाने की तैयारी की जा रही है. भारतीय रेलवे की ओर से देश की पहली हाइड्रोजन फ्यूल ट्रेन हरियाणा के सोनीपत-जींद सेक्शन (Sonipat-Jind Section) पर चलाने की तैयारी है.

    नॉर्दन रेलवे की ओर से कुल 89 किलोमीटर लंबे सोनीपत-जींद सेक्शन पर इस ट्रेन को चलाने के लिए टेंडर प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. रेलवे की ओर से जीरो कार्बन उत्सर्जन मिशन के मिशन के तहत इस योजना को जल्द से जल्द अमल में लाने पर काम किया जा रहा है.

    नॉर्दन रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार के मुताबिक भारतीय रेल ने स्वयं को हरित परिवहन प्रणाली के रूप में बदलने के क्रम में नॉर्दन रेलवे (Northern Railway) के 89 किमी. लम्बे सोनीपत-जिंद सेक्शन पर देश की पहली हाइड्रोजन फ्यूल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है.

    ये भी पढ़ें: Indian Railways: मध्य प्रदेश-राजस्थान के बीच इस ट्रेन को किया गया था कैंसिल, अब पहले के टाइम से चलेगी ये ट्रेन

    भारतीय रेल वैकल्पिक ईंधन संगठन (IROAF) भारतीय रेल के हरित ईंधन प्रभाग ने नॉर्दन रेलवे के सोनीपत-जिंद सेक्शन पर हाइड्रोजन फ्यूल सेल आधारित ट्रेन चलाने के लिए निविदाएं आमंत्रित की हैं.  इस प्रयोजन के लिए निविदापूर्व दो बैठकें क्रमशः 17 अगस्त एवं 09 सितंबर को निर्धारित की गई हैं. प्रस्ताव देने की तिथि 21 सितंबर तथा टेंडर खुलने की तिथि 05 अक्टूबर निर्धारित की गई है.

    पेरिस वातावरण समझौता 2015 के अंतर्गत ग्रीन हाउस गैसेज को कम करने के लक्ष्य की प्राप्ति की चुनौती को स्वीकार करते हुए तथा रेलवे द्वारा जीरो कार्बन उत्सर्जन मिशन के अंतर्गत 2030 तक लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास है.

    रेलवे ने सोनीपत-जिंद सेक्शन पर 2 डी.एम.यू. रैक को फ्यूल सेल पावर्ड हाइब्रिड ट्रैक्शन सिस्टम से ट्रेन चलाने का निश्चय किया है जिसमें हाइड्रोजन फ्यूल आधारित ट्रेन का संचालन किया जाएगा तथा इसके लिए आवश्यक बजटीय सहायता उपलब्ध कराई गई है.

    डीजल से चलने वाली डेमू को हाइड्रोजन सेल तकनीक में बदलने से ना सिर्फ सालाना 2.3 करोड़ रुपये बचेंगे, बल्कि हर साल 11.12 किलो टन कार्बन फुटप्रिंट (NO2) और 0.72 किलो टन पर्टिकुलेट मैटर का उत्सर्जन भी रुकेगा.

    Tags: Hydrogen, Indian Railways, Railway, Railways news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर