लाइव टीवी

अब रेलवे स्टेशनों पर नहीं मिलेगा 2 रुपये में पानी, Railway बंद कर रहा है ये सर्विस

News18Hindi
Updated: December 9, 2019, 11:27 AM IST
अब रेलवे स्टेशनों पर नहीं मिलेगा 2 रुपये में पानी, Railway बंद कर रहा है ये सर्विस
भारतीय रेलवे (Indian Railway) जल्द वॉटर वेंडिंग मशीन (डब्ल्यूवीएम) सर्विस बंद कर सकता है. इस सर्विस के जरिए यात्रियों को 2 रुपए में 300 मिली शुद्ध पानी मुहैया कराया जाता है.

भारतीय रेलवे (Indian Railway) जल्द वॉटर वेंडिंग मशीन (डब्ल्यूवीएम) सर्विस बंद कर सकता है. इस सर्विस के जरिए यात्रियों को 2 रुपए में 300 मिली शुद्ध पानी मुहैया कराया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2019, 11:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रेलवे (Indian Railway) जल्द वॉटर वेंडिंग मशीन (डब्ल्यूवीएम) सर्विस बंद कर सकता है. इस सर्विस के जरिए यात्रियों को 2 रुपए में 300 मिली शुद्ध पानी मुहैया कराया जाता है. नवभारत टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक यह सर्विस यात्रियों के लिए तो फायदेमंद है लेकिन ठेकेदारों को यह मंहगी पड़ रही है. इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) ने पश्चिम रेलवे के 23 स्टेशनों पर इस सर्विस को खत्म कर दिया है. आईआरसीटीसी ने इस बात की जानकारी शुक्रवार को एक पत्र लिखकर साझा की है.

इस सर्विस को मुहैया करवाने वाली कंपनी हाई टेक स्वीट वॉटर टेक्नॉलजी प्राइवेट लिमिटेड ने बिजली और पानी के बिल को अब तक नहीं भरा है. यह बिल रेलवे ने जारी किए हैं. यही नहीं पानी की शिकायतों पर आईआरसीटी (IRCTC) की तरफ से लगाई गई जुर्माना राशि भी अब तक पेंडिंग है.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! जल्द बढ़ जाएगी आपकी सैलरी, सरकार करने वाली EPFO के नियमों में बदलाव

कंपनी के इस रवैये पर IRCTC ने रेलवे को यह सूचित कर दिया है कि जब तक कंपनी बिल का भुगतान नहीं कर देती तब तक उसे मशीन के किसी भी हिस्से को ले जाने की अनुमति न दी जाए. ऐसे में तय है कि जब तक कंपनी बिल का भुगतान नहीं कर देती तब तक पश्चिम रेलवे के इन स्टेशनों पर यह सस्ते में पानी देने की यह सर्विस शुरू नहीं हो सकेगी. हालांकि अन्य कंपनियों की तरफ से दी जा रही यह सर्विस पहले की तरह ही चालू रहेंगी.

बता दें कि मामूली दर पर स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से वर्ष 2015 में वॉटर वेंडिंग मशीन लगाने की परियोजना शुरू की गई थी. इन मशीनों से रिवर्स ओसमोसिस (आरओ) तकनीक से शुद्ध पानी मिलता है. डब्ल्यूवीएम को 24 घंटे स्वचालित या हाथ से संचालित किया जाता है. मंत्रालय ने कहा कि इन मशीनों से मिलने वाला पानी बोतलबंद मिनरल वॉटर से भी सस्ता होगा.

ये भी पढ़ें: 31 दिसंबर तक नहीं किया ये काम तो बेकार हो जाएगा आपका PAN कार्ड!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2019, 11:14 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर