भारतीय रेलवे की खास पहल, अब खाली प्लास्टिक बोतल से रिचार्ज होगा आपका फोन

Chandan Kumar | News18.com
Updated: September 9, 2019, 7:30 PM IST
भारतीय रेलवे की खास पहल, अब खाली प्लास्टिक बोतल से रिचार्ज होगा आपका फोन
पीएम नरेंद्र मोदी की अपील के बाद रेलवे ने उठाया ये कदम.

भारतीय रेलवे (Indian Railways) सिंगल यूज प्लास्टिक (Single Use Plastic) से छुटकारा पाने के लिए अपने A1 और A कैटेगरी के 400 स्टेशनों पर बॉटल क्रशिंग मशीन (Bottle Crushing Machine) लगाने जा रहा है. रेलवे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अपील के बाद ये कदम उठाया है.

  • News18.com
  • Last Updated: September 9, 2019, 7:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने सिंगल यूज प्लास्टिक (Single Use Plastic) को रोकने के लिए बड़ी योजना पर काम शुरू कर दिया है. इसके तहत 2 अक्टूबर (2nd October) तक ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों पर सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूरी तरह से बंद कर दिया जाएगा. रेलवे ने ये कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) द्वारा 15 अगस्‍त को लाल किले से सिंगल यूज प्लास्टिक को देश से बाहर करने की अपील के बाद उठाया है. आपको बता दें कि ये वो प्लास्टिक हैं जो 50 माइक्रोन (50 Micron) से कम के होंगे. हालांकि भारतीय रेलवे के सामने कई प्रकार की चुनौतियां हैं, जिससे निपटना आसान नहीं है. जी हां, रेलवे के सामने सबसे बड़ी समस्या रोज इस्तेमाल होने वाले करीब 25 लाख पानी की बोतलें और 10 लाख अन्य पेय पदार्थ की प्लास्टिक की बोतलें हैं, जिनका इस्तेमाल ट्रेनों, स्टेशन परिसर या उनके आसपास होता है.

रेलवे कर रहा है ये काम
इन दिनों रेलवे 25 लाख पानी की बोतलों और 10 लाख अन्य पेय पदार्थ की प्लास्टिक की बोतलों पर खास काम कर रहा है. यही वजह है कि रेलवे अपने A1 और A कैटेगरी के 400 स्टेशनों पर बॉटल क्रशिंग मशीन (Bottle crushing machine) लगाने जा रहा है. फिलहाल रेलवे के 128 स्टेशनों पर ऐसी 160 मशीन लगायी जा चुकी हैं.

काम की है खाली बोतल

इन मशीनों में एक खास सुविधा भी मौजूद रहेगी. अगर आप इन मशीनों में पानी की बोतल डालेंगे तो उसमें आपको अपने मोबाइल नंबर की भी इंट्री करनी होगी. मशीन में बोतल डालते ही इससे आपके फ़ोन में कुछ पैसे का रिचार्ज हो जाएगा. वहीं IRCTC ट्रेनों में इस्तेमाल के बाद खाली बोतलों को जमा कर उन्हें रिसाइक्लि के लिए भी भेजेगा, ताकि प्लास्टिक के कूड़े को कम किया जा सके.

 Indian Railways, Rail Neer, Water Bottle, भारतीय रेलवे, रेल नीर, पानी की बोतल
रेलवे 25 लाख पानी की बोतलों और 10 लाख अन्य पेय पदार्थ की प्लास्टिक की बोतलों पर खास काम कर रहा है.


पीएम की अपील के बाद...
Loading...

इससे पहले रेल मंत्रालय ने रेलवे में प्लास्टिक और पॉलिथिन बैग के इस्तेमाल पर फौरन हर संभव रोक लगाने के निर्देश दिए हैं. दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को अपने भाषण में प्लास्टिक से पैदा होने वाले प्रदूषण को रोकने की अपील की थी. रेल बोर्ड ने अपने निर्देश में कहा है कि 2 अक्टूबर तक रेलवे को प्लास्टिक से बने सामानों पर नियमों के तहत पूरी पाबंदी लगानी है. जबकि इस राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के दिन सभी रेल कर्मियों को प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की शपथ भी दिलाई जाएगी.

यह भी पढे़ं: दुनिया की आबादी जितना हर साल बढ़ता है सिंगल यूज़ प्लास्टिक कचरा?

चंद्रयान 2 की तरह इजरायल के मून मिशन में आई थी गड़बड़ी, जानिए कहां हुई थी चूक?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 7:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...