लाइव टीवी

रेलवे का ऐलान- अब इस रूट पर चलेगी तेजस एक्सप्रेस, यात्रियों को मिलेंगी ये सुविधाएं

News18Hindi
Updated: February 22, 2020, 10:36 AM IST
रेलवे का ऐलान- अब इस रूट पर चलेगी तेजस एक्सप्रेस, यात्रियों को मिलेंगी ये सुविधाएं
रेल मंत्रालय ने हरिद्वार के रास्ते दिल्ली और देहरादून के बीच इसे चलाने के लिए हरी झंडी दिखा दी है.

रेल मंत्री पीयूष गोयल के हवाले से शुक्रवार को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अनुरोध पर दिल्ली-हरिद्वार- देहरादून मार्ग पर तेजस एक्सप्रेस रेलगाड़ी चलाने पर सैद्धांतिक रूप से सहमति मिल गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2020, 10:36 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नए जमाने की आधुनिक सुविधाओं वाली तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) अब एक और नए रूट पर चलने वाली है. रेल मंत्रालय ने हरिद्वार के रास्ते दिल्ली और देहरादून के बीच इसे चलाने के लिए हरी झंडी दिखा दी है. रेल मंत्री पीयूष गोयल के हवाले से शुक्रवार को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अनुरोध पर दिल्ली-हरिद्वार- देहरादून मार्ग पर तेजस एक्सप्रेस रेलगाड़ी चलाने पर सैद्धांतिक रूप से सहमति मिल गई है. आपको बता दें कि आईआरसीटीसी (IRCTC) तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) को नई दिल्ली-लखनऊ रूट के अलावा अहमदाबाद और मुंबई रूट (Tejas Express Ahmedabad to Mumbai route Schedule) पर चलाता है. ये दोनों प्राइवेट तौर पर IRCTC के पास है.

आपको बता दें कि तेजस ट्रेन में वाईफाई के साथ-साथ केटरिंग का मेन्यू मशहूर शेफ द्वारा तैयार किया गया है. यात्रियों को मुफ्त में 25 लाख रुपये का रेल यात्रा बीमा मिलेगा. हर कोच में इंटिग्रेटेड ब्रेल डिस्प्ले, डिजिटल डेस्टिनेशन बोर्ड्स और इलेक्ट्रॉनिक रिजर्वेशन चार्ट भी हैं.

ये भी पढ़ें-प्लेटफॉर्म टिकट के लिए नहीं खर्च करना होगा 1 भी रुपये, बस करें ये आसान काम

दिल्ली-देहरादून रूट पर चलेगी तेजस एक्सप्रेस- पीयूष गोयल ने कहा कि 2021 में हरिद्वार में होने वाले कुंभ मेले के लिए रेलवे विभाग प्रयागराज की भांति ही पूरी तैयारी करेगा. उन्होंने कहा कि देहरादून और हरिद्वार स्टेशनों की सुरक्षा और यात्रियों की सुविधा सुनिश्चित की जाएगी.



उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रावत ने इस मामले को लेकर नई दिल्ली में रेल मंत्री गोयल से मुलाकात की थी. गोयल ने कहा कि पाथ-वे उपलब्ध होते ही रेलगाड़ी को शुरू कर दिया जाएगा.

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना में ‘इनोवेटिव' काम होने का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि अगले ढ़ाई वर्ष में श्रीनगर गढ़वाल तक रेल पहुंचाने का पूरा प्रयास किया जाएगा.

गोयल ने कहा कि दून रेलवे स्टेशन का आधुनिकीकरण इस वर्ष नवम्बर तक कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि जल्द ही रेलवे के उच्च अधिकारियों का एक दल उत्तराखण्ड भेजा जाएगा.

तेजस एक्सप्रेस ट्रेन के लेट होने पर यात्रियों को मआवजा दिया जता है. एक घंटे से अधिक का विलंब होने पर 100 रुपये की राशि अदा की जाएगी, जबकि दो घंटे से अधिक की देरी होने पर 250 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा.

इसके अतिरिक्त आईआरसीटीसी की इस पहली ट्रेन के यात्रियों को 25 लाख रुपए का नि:शुल्क बीमा भी दिया जाता है. यात्रा के दौरान लूटपाट या सामान चोरी होने की स्थिति के लिए भी एक लाख रुपए के मुआवजा की व्यवस्था है.

तेजस ट्रेन में वीआईपी कोटा के तहत सांसद, विधायक, राज्यों के मंत्री, जनप्रतिनिधि, रेल अफसर और मीडियाकर्मियों को कंफर्म बर्थ नहीं दी जाएगी. ट्रेन में किसी भी वर्ग को किराए में रियायत नहीं मिलेगी.

(दिपाली नंदा, संवाददाता, CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 22, 2020, 9:33 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर