Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    पैसेंजर ट्रेनों में पैंट्री कार को लेकर मचा घमासान! रेलवे यूनियन ने केंद्र सरकार से की हटाने की मांग

    पैसेंजर ट्रेनों में पैंट्री कार होने या नहीं होने को लेकर रेलवे यूनियन एकमत नहीं हैं.
    पैसेंजर ट्रेनों में पैंट्री कार होने या नहीं होने को लेकर रेलवे यूनियन एकमत नहीं हैं.

    रेलवे यूनियंस (Railway Unions) ट्रेनों से पैंट्री कार (Pantry Cars) हटाने या नहीं हटाने को लेकर एकमत नहीं हैं. ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन (AIRF) ने रेल मंत्री (Rail Minister) को चिट्ठी लिखकर पैंट्री कार की जगह पैसेंजर कोच (Passenger Coach) लगाने की मांग की है तो इंडियन रेलवे मोबाइल कैटरर्स एसोसिएशन (IRMCA) ने कहा है कि इससे लाखों लोगों का रोजगार छिन जाएगा.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 6, 2020, 8:54 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्‍ली. इंडियन रेलवे (Indian Railways) में ट्रेनों में पैंट्री कार होने या हटाए जाने को लेकर घमासान मचा हुआ है. इस मुद्दे पर रेलवे की यूनियंस आपस में भिड़ गई हैं. एक तरफ ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन (AIRF) ने रेल मंत्री (Rail Minister) को चिट्ठी लिखकर मांग की है कि ट्रेनों से पैंट्री कार (Pantry Cars) हटाई जाएं. साथ ही कहा है कि ट्रेनों से पैंट्री कार हटाकर पैसेंजर कोच (Passenger Coaches) लगा दिए जाएं. इससे मुसाफिरों के लिए एक कोच बढ़ जाएगा. साथ ही सलाह दी है कि मुसाफिर ई-कैटरिंग (E-catering) के जरिये खाना बुक करा सकते हैं. इसके अलावा रेलवे के बेस किचन में खाना पकाकर मुसाफिरों को दिया जा सकता है.

    पैंट्री कार बंद होने से जाएगा 4 लाख लोगों का रोजगार: IRMCA
    एआईआरएफ ने रेल मंत्रालय को भेजी चिट्ठी में दलील दी है कि पैंट्री के बजाय दूसरे तरीकों से यात्रियों को खाने-पीने की चीजें उपलब्‍ध कराने से रेलवे को कम लोगों की जरूरत होगी और खर्च घटेगा. साथ ही एक अतिरिक्त कोच से रेलवे की आमदनी भी बढ़ेगी. इस चिट्ठी के बाद इंडियन रेलवे मोबाइल कैटरर्स एसोसिएशन (IRMCA) ने भी रेल मंत्री को पत्र लिखा है. आईआरएमसीए ने दलील है कि ट्रेनों से पैंट्री कार हटाने से बड़ी संख्या में लोगों की रोजी-रोटी पर संकट आ जाएगा. एसोसिएशन का कहना है कि करीब 4 लाख लोग प्रत्‍यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर ट्रेनों में खान-पान सेवा मुहैया कराने से जुड़े हैं. पैंट्री कार बंद किए जाने पर ये सभी लोग बेरोजगार (Unemployment) हो जाएंगे.

    ये भी पढ़ें- ये भी पढ़ें- इंडियन रेलवे ने बदला बड़ा नियम, अब इतने मिनट पहले जारी होगा Train Ticket Reservation Chart
    'रेलवे कर रहा है ट्रेनों से पैंट्री कार हटाने की येाजना पर काम'


    रेलवे ने अब तक इस मुद्दे पर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया है. हालांकि, सूत्रों के मुताबिक, रेलवे ट्रेनों से पैंट्री कार हटाने की योजना पर काम कर रहा है. इसके बदले ट्रेनों में रेडी-टू-ईट या पैकेज्‍ड फूड दिया जाएगा. यह सुविधा बहुत कुछ फ्लाइट की तरह होगी. इसके अलावा मुसाफिरों के पास ई-कैटरिंग की सुविधा भी होगी. कोरोना काल से पहले आम दिनों में भारतीय रेल की 417 मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों में पैंट्री कार की सुविधा मौजूद रही है. इसके अलावा रेलवे की तरफ से 500 ट्रेनों में ट्रेन साइड वेंडिंग (TSV) की सुविधा है. इसके तहत खाना ऑर्डर करने पर बड़े स्टेशनों के फूड प्रोवाइडर से खाना लेकर ट्रेन में सप्लाई कराया जाता है. बता दें कि फिलहाल कोविड-19 से बचाव के लिए रेलवे की तरफ से पैंट्री कार बंद रखी गई है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज