Home /News /business /

Indian Railway जल्‍द करेगा फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का ऐलान! चलाई जाएंगी 1500 स्पेशल ट्रेनें

Indian Railway जल्‍द करेगा फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का ऐलान! चलाई जाएंगी 1500 स्पेशल ट्रेनें

Indian Railways त्‍योहारों में स्‍पेशल ट्रेनें चलाएगा.

Indian Railways त्‍योहारों में स्‍पेशल ट्रेनें चलाएगा.

दशहरे से लेकर छठ तक का पिछला त्‍योहारी सीजन भारतीय रेलवे (Indian Railway) के लिए बहुत बुरा गुजरा है. अब कोरोना महामारी का प्रकोप कम होने और रिकार्ड कोविड वैक्सीनेशन की वजह से त्‍योहारी सीजन में रेलवे के लिए स्‍पेशल ट्रेनें (Festival Special Trains) चलाने से तस्वीर बदलने की उम्‍मीद की जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. भारतीय रेलवे (Indian Railways) की ओर से जल्‍द ही त्योहारों को देखते हुए फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों (Festival Special Trains) का ऐलान किया जाएगा. रेलवे त्‍योहारों की वजह से बढ़ने वाली भीड़ के मद्देनजर 10 अक्टूबर से 21 नवंबर तक 1500 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें चला सकता है. हालांकि, आम दिनों में या कोरोना महामारी से पहले यह आंकड़ा 5,000 के पार होता था. दरअसल, भारतीय रेल पर कोविड-19 का बहुत बुरा असर हुआ है. काफी समय से रेलवे में लगातार यात्रियों (Rail Passengers) की कमी देखी जा रही है.

    अभी तक स्‍पेशल ट्रेनों का ऐलान नहीं करने की बड़ी वजह
    दशहरे से लेकर छठ तक का पिछला त्‍योहारी सीजन भी भारतीय रेलवे के लिए बहुत बुरा गुजरा है. यह देखा गया है कि 8-10 घंटे के सफर के लिए बहुत से लोग निजी गाड़ियों का इस्तेमाल करना ज्‍यादा पसंद कर रहे हैं. कोरोना महामारी का प्रकोप कम होने और रिकार्ड कोविड वैक्सीनेशन की वजह से अब त्‍योहारी सीजन में रेलवे के लिए तस्वीर बदल सकती है. रेलवे को उम्मीद है कि त्‍योहारों के साथ ही ट्रेनों में भी पुरानी चमक एकबार फिर से लौट सकती है. वहीं, दशहरे का त्योहार 7 अक्टूबर से शुरू हो रहा है, लेकिन अब तक सीजन की स्पेशन ट्रेनों का ऐलान नहीं होने के पीछे भी बड़ी वजह है. सूत्र के मुताबिक, रेलवे पर मालगाड़ियों को चलाने का भारी दबाव है.

    ये भी पढ़ें- Gold Price Today: गोल्‍ड में 269 रुपये तो चांदी में 630 रुपये की शानदार बढ़ोतरी, फटाफट देखें नए भाव

    रेलवे पर मालगाड़ियों को चलाने का भी बढ़ा है दबाव
    देशभर के पॉवर प्लांट (Power Plants) में कोयले की सख्‍त जरूरत ने मालगाड़ियों (Goods Trains) को चलाने का दबाव काफी बढ़ा दिया है. दशहरे से लेकर छठ तक ट्रेनों की सबसे ज्‍यादा मांग पूर्वी भारत के लिए होती है. वहीं, पूर्वी भारत के झारखंड और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों से कोयले की ढुलाई (Coal Supply) सबसे ज्‍यादा होती है. ऐसे में रेलवे लाइन पर किसे प्राथमिकता दी जाए, इसने संकट को गहरा कर दिया है. हालांकि, उम्मीद की जा रही है कि आने वाले एक-दो दिन में इस समस्या का समाधान कर लिया जाएगा. साथ ही रेलवे की ओर से स्पेशल ट्रेनों का ऐलान कर दिया जाएगा.

    Tags: Diwali 2021, Dussehra Festival, Festival Special Trains, Indian Railway news, Indian Railways, Train news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर