रेलवे जल्‍द शुरू करेगी नई स्‍पेशल ट्रेनें, तत्‍काल कोटा में टिकट बुक कराने की भी मिलेगी सुविधा

रेलवे जल्‍द शुरू करेगी नई स्‍पेशल ट्रेनें, तत्‍काल कोटा में टिकट बुक कराने की भी मिलेगी सुविधा
भारतीय रेलवे जल्‍द कुछ और स्‍पेशल ट्रेनें शुरू करने जा रही है.

भारतीय रेलवे (Indian Railways) इन स्‍पेशल ट्रेनों में नियमित सैनिटाइजेशन (Sanitization) की व्‍यवस्‍था पर जोर देगी. इन ट्रेनों में 120 दिन पहले से एडवांस रिजर्वेशन (Advance Reservation) सुविधा होगी.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. भारतीय रेलवे (Indian Railways) जल्‍द ही कुछ और स्‍पेशल ट्रेनें (Special Trains) चलाने का फैसला ले सकती है. रेल मंत्रालय (Railway Ministry) ने इससे संबंधित प्रस्‍ताव गृह मंत्रालय (Home Ministry) को भेज दिया है. इन ट्रेनों को चलाने की योजना बनाई जा रही है. योजना के तहत हर ट्रेन में अधिकतम यात्रियों की संख्‍या, रेलवे स्‍टेशनों पर यात्रियों की स्‍कैनिंग की तैयारी जैसे मुद्दों पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है. हालांकि, रेलवे के अधिकारियों की ओर से इन अतिरिक्‍त विशेष ट्रेनों के स्‍टॉपेज (Stoppages) या किराये (Fares) को लेकर कोई जानकारी साझा नहीं की है.

यात्रियों को 90 मिनट पहले पहुंचा होगा स्‍टेशन
रेलवे इन नई विशेष ट्रेनों की बोगियों के नियमित सैनिटाइजेशन (Sanitization) पर खास जोर देगी. यात्रियों को ट्रेन छूटने के समय से 90 मिनट पहले स्‍टेशन पर पहुंचना होगा ताकि सफर करने वाले हर व्‍यक्ति की कायदे से स्‍कैनिंग (Scanning) की जा सके. इन विशेष ट्रेनों के लिए 120 दिन पहले से ही टिकट की बुकिंग (APR) शुरू हो जाएगी. वहीं, जरूरत होने पर यात्री तत्‍काल कोटे (Tatkal Quota) से भी टिकट बुक करा सकेंगे.

ये भी पढ़ें :- चीन में प्‍लेग के मामले सामने आने पर आनंद महिंद्रा चिंतित! कहा-अब सहन नहीं होतीं ऐसी खबरें
कुछ रूट पर हर दिन बढ़ते जा रहे हैं यात्री


रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने हाल में बताया था कि यूपी से चलने वाली ट्रेनों के साथ ही बिहार से मुंबई, पश्चिम बंगाल से मुंबई की ट्रेनों में यात्रियों की संख्‍या हर दिन बढ़ती जा रही है. ये इस बात का संकेत भी है कि देश में आर्थिक गतिविधियां (Economic Activities) फिर पटरी पर लौट रही हैं. यादव ने कहा कि कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए रेलवे की ओर से हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं. उन्‍होंने कहा था कि इन सभी बातों को ध्‍यान में रखते हुए हफ्ते, 10 दिन में कुछ और ट्रेनों की सूची को अंतिम रूप दिया जा सकता है.

ये भी पढ़ें :- नहीं मिल रहे लेबर! मजदूरों को वापस काम पर बुलाने के लिए फ्लाइट टिकट, खाना और फ्री रहने को दे रही हैं कंपनियां

किस रूट पर चलाई जा सकती हैं नई ट्रेनें
सूत्रों के मुताबिक, रेल मंत्रालय ने गृह मंत्रालय को दिल्‍ली से शुरू होने वाली कई स्‍पेशल ट्रेनों की अनुमति मांगी है. इनमें नई दिल्‍ली से अमृतसर, चंडीगढ़़ पुरानी दिल्‍ली से फिरोजपुर, सराय रोहिल्‍ला से पोरबंदर, दिल्‍ली से भागलपुर, गाजीपुर की ट्रेनें शामिल हैं. वहीं, जोधपुर, कामाख्‍या व गोरखपुर से दिल्‍ली, डिब्रूगढ़, इंदौर, हबीबगंज व लखनऊ से नई दिल्‍ली और मुजफ्फरपुर व मधुपुर से पुरानी दिल्‍ली की स्‍पेशल ट्रेनें भी शुरू करने की मंजूरी मांगी गई है. इसके अलावा दिल्‍ली से होकर गुजरने वाली कुछ ट्रेनों की सूची भी गृह मंत्रालय को सौंपी गई है. इनमें कोटा से देहरादून और फिर नंदा देवी तक, डिब्रूगढ़ से अमृतसर, डिब्रूगढ़ से लालगढ़, मुजफ्फरपुर से पोरबंदर और यशवंतपुर से बीकानेर की विशेष ट्रेन शामिल हैं. बता दें कि इस समय भारतीय रेलवे 230 स्‍पेशल ट्रेनें चला रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading