Home /News /business /

indias gdp growth downgraded to 4 6 percent due to russia ukraine war un report check details arnod

संयुक्‍त राष्‍ट्र की संस्‍था UNCTAD ने भारत के आर्थिक वृद्धि अनुमान में की 2% कटौती, कहा- 4.6% की दर से बढ़ेगी GDP

UNCTAD ने भारत के ग्रोथ अनुमान में बड़ी कटौती कर दी है.

UNCTAD ने भारत के ग्रोथ अनुमान में बड़ी कटौती कर दी है.

रूस-यूक्रेन युद्ध (Russia Ukraine War) की वजह से भारत कई मोर्चों पर दिक्‍कतों का सामना करेगा. इनमें ऊर्जा की पहुंच व कीमतें, व्यापार प्रतिबंध, खाद्य मुद्रास्फीति, सख्त नीतियां और वित्तीय अस्थिरता शामिल हैं. युद्ध का असर ग्लोबल इकोनॉमी पर भी पड़ेगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्लीः रूस-यूक्रेन जंग की तपिश (Russia Ukraine War) भारत समेत पूरी दुनिया की इकोनॉमी को झेलनी होगी. इसे देखते हुए संयुक्त राष्ट्र (UN) की संस्था अंकटाड (UN Conference on Trade and Development – UNCTAD) ने भारत की आर्थिक वृद्धि के अपने अनुमान में कटौती कर दी है. अंकटाड की रिपोर्ट में कहा गया है कि 2022 में भारत की इकोनॉमी (Indian Economy) 4.6 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी.

अवरोधों का करना होगा सामना
पहले भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था के 6.7 फीसदी की दर से बढ़ने का अनुमान लगाया गया था यानी UNCTAD ने अपने पहले के अनुमान में 2 फीसदी की कटौती की है. रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से भारत कई मोर्चों पर दिक्‍कतों का सामना करेगा. इनमें ऊर्जा की पहुंच व कीमतें, व्यापार प्रतिबंध, खाद्य मुद्रास्फीति, सख्त नीतियां और वित्तीय अस्थिरता शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- CSK ICICI Bank Credit Card: चेन्नई सुपर किंग्स के मैचों के लिए मिलेगा कॉम्प्लिमेंट्री टिकट, जानें कार्ड के और फीचर्स

ग्लोबल ग्रोथ अनुमान भी घटाया
युद्ध का असर ग्लोबल इकोनॉमी पर भी पड़ेगा. इसलिए अंकटाड ने ग्लोबल ग्रोथ रेट को भी 1 फीसदी घटा दिया है. अंकटाड के मुताबिक, 2022 में ग्लोबल इकोनॉमी अब 2.6 प्रतिशत की दर से ही बढ़ेगी. पहले इसके 3.6 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया था. युद्ध की तपिश में विकासशील देशों की अर्थव्यवस्थाएं ज्यादा झुलसेंगी.

ये भी पढ़ें- इस शेयर ने दिया छप्परफाड़ रिटर्न, 1 लाख को बना दिया ₹57 लाख, क्या आपने खरीदा?

रूस आएगा गहरी मंदी की चपेट में
रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस इस साल गहरी मंदी की चपेट में आ सकता है. जंग की शुरुआत करने वाले इस देश की विकास दर माइनस में जा सकती है. यह शून्य से नीचे 7.3 फीसदी तक जा सकती है. वहीं पश्चिमी यूरोप, दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया सहित पश्चिम एशिया के कुछ देशों के विकास दरों में ज्यादा गिरावट आने की आशंका है. अंकटाड ने अमेरिका के विकास दर अनुमान को घटाकर 2.4 फीसदी और चीन के अनुमान को 4.8 फीसदी कर दिया है.

Tags: Economic growth, Indian economy, United Nation

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर