कोरोना संकट में अब 35 फीसदी तक कटेगी इंडिगो के वरिष्ठ कर्मचारियों की सैलरी, CEO ने लिखा लेटर

कोरोना संकट में अब 35 फीसदी तक कटेगी इंडिगो के वरिष्ठ कर्मचारियों की सैलरी, CEO ने लिखा लेटर
इंडिगो ने एक बार फिर सैलरी कटौती का फैसला लिया है.

कोरोना संकट में नकदी प्रबंधन को देखते हुए इंडिगो (Indigo Airlines) ने अपने वरिष्ठ कर्मचारियों की सैलरी में 35 फीसदी तक कटौती (Salary cut) करने का फैसला लिया है. फिलहाल, यह कटौती 25 फीसदी तक ही है. इंडिगो के CEO रणजय दत्ता (Ronojoy Dutta) ने सोमवार को एक ई-मेल में कर्मचारियों को यह जानकारी दी.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोविड-19 संकट के बीच इंडिगो (Indigo Airlines) ने अपने वरिष्ठ कर्मचारियों के वेतन में अब 35 फीसदी तक कटौती (Salary cut by Indigo) करने की घोषणा की है. कंपनी ने सोमवार को कहा कि यह कदम नकदी प्रबंधन (Cash management) के लिए उठाया गया है. मई के बाद से इंडिगो अपने वरिष्ठ कर्मियों के वेतन में 25 फीसदी तक की कटौती कर रही है. यह वेतन कटौती एक सितंबर से लागू होगी.

कंपनी ने 20 जुलाई को घोषणा की कि वह इस कटौती को थोड़ा और बढ़ाने जा रही है. महामारी की वजह से कंपनी के सामने खड़े हुए आर्थिक संकट से निपटने के लिए वह अपने कर्मचारियों के वेतन में 10 फीसदी की कटौती और करेगी.

किन अधिकारियों की सैलरी कितनी कटेगी?
इंडिगो के मुख्य कार्यकारी (CEO) अधिकारी रणजय दत्ता (Ronojoy Dutt) ने सोमवार को एक ई-मेल में कर्मचारियों से कहा, ‘‘मैं अपनी खुद की वेतन कटौती को बढ़ाकर 35 फीसदी कर रहा हूं. मैं हमारे सभी वरिष्ठ उपाध्यक्षों और उससे ऊपर के अधिकारियों से 30 फीसदी वेतन कटौती करने के लिए कह रहा हूं. सभी पायलटों की वेतन कटौती बढ़ाकर 28 फीसदी कर दी गयी है. जबकि सभी उपाध्यक्षों के वेतन में 25 फीसदी कटौती और एसोसिएट उपाध्यक्षों के वेतन में 15 फीसदी की कटौती होगी.’’
यह भी पढ़ें: शेयर में पैसा लगाने वालों के लिए बड़ी खबर! बिना ब्रोकर खरीद सकेंगे Stock



इस घोषणा से पहले दत्ता 25 फीसदी, सभी वरिष्ठ उपाध्यक्ष और उससे ऊपर के अधिकारी 20 फीसदी, सभी उपाध्यक्ष 15 फीसदी और सभी एसोसिएट उपाध्यक्ष 10 फीसदी की वेतन कटौती ले रहे थे.

बैंड-ए और बैंड-बी कर्मचारियों की सैलरी कटौती नहीं
इसके अलावा मई में इंडिगो बैंड-डी और चालक दल के सदस्यों के वेतन में 10 फीसदी और बैंड-सी के कर्मचारियों के वेतन में पांच फीसदी की कटौती की थी. बैंड-ए और बैंड-बी के कर्मचारियों के वेतन से छेड़छाड़ नहीं की गयी थी. इनकी संख्या विमानन कंपनी में सबसे अधिक है. दत्ता की सोमवार की घोषणा में भी इनके वेतन से छेड़छाड़ नहीं की गयी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading