दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश को लगा झटका!

दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इंडोनेशिया को बड़ा झटका लगा है.

News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 2:36 PM IST
दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश को लगा झटका!
दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इंडोनेशिया को बड़ा झटका लगा है.
News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 2:36 PM IST
दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इंडोनेशिया को बड़ा झटका लगा है. दुनिया में जारी ट्रेड वॉर के चलते  अप्रैल-जून तिमाही में इंडोनेशिया की आर्थिक ग्रोथ गिरकर 5 फीसदी रही है. यह दो साल में सबसे कम है. न्यूज एजेंसी के मुताबिक, साउथ ईस्ट एशिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की जीडीपी में ग्रोथ 5.07 फीसदी से गिरकर 5.05 फीसदी पर आ गई है. अर्थशास्त्रियों का कहना है कि कमोडिटी बूम यानी कमोडिटी की कीमतों में जारी तेजी थमने का असर अर्थव्यवस्था पर है. लेकिन अगली तिमाही में ग्रोथ में सुधार देखने को मिल सकता है. हालांकि, करेंसी में गिरावट सबसे बड़ी टेंशन है.

इंडोनेशिया पर एक नज़र- 26.4 करोड़ की आबादी वाला इंडोनेशिया, भारत और अमेरिका के बाद दुनिया का तीसरा बड़ा लोकतांत्रिक देश है. 2019 के राष्ट्रपति चुनावों के दौरान देश में 19.3 करोड़ मतदाता थे. भारत की तरह इंडोनेशिया भी कई धर्मों, संस्कृतियों और भाषाओं वाला देश है. दुनिया में सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी वाले देश इंडोनेशिया में हिंदू और बौद्ध धर्म का भी गहरा प्रभाव दिखता है.

भारत और इंडोनेशिया के बीच कारोबार-इंडोनेशिया की केंद्रीय साख्यिकी एजेंसी (बीपीएस) के मुताबिक दोनों देशों के बीच 2016 में व्यापार 12.9 अरब डॉलर था जो कि 2017 में बढ़कर 18.13 अरब डॉलर पर पहुंच गया.

ये भी पढ़ें-अमेरिका ने लिया चीन के खिलाफ 29 साल में सबसे बड़ा फैसला, भारत पर होगा सीधा असर



इंडोनेशिया का भारत को निर्यात 14.08 अरब डॉलर पर पहुंच गया जबकि भारत से आयात 4.05 अरब डॉलर पर रहा.दोनों देश ने साल 2025 तक द्विपक्षीय व्यापार को 50 अरब डॉलर तक पहुंचाने के लिये अपने प्रयासों को दोगुना करने का लक्ष्य रखा है.

भारत सहित 9 एशियाई देश अमेरिका को देंगे कड़ी टक्कर-भारत सहित एशिया की 10 बड़ी अर्थव्यवस्थाओं का सम्मिलित रियल जीडीपी (GDP) 10-12 वर्ष में अमेरिका से अधिक हो जाएगी. DBS की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इन एशियाई अर्थव्यवस्थाओं की GDP तेज वृद्धि के साथ 2030 तक 28,000 अरब डॉलर हो जाएगी, जो अमेरिका से अधिक होगी.
Loading...

भारत सहित 9 एशियाई देश अमेरिका को देंगे कड़ी टक्कर


डीबीएस के अनुसार इन दस अर्थव्यवस्थाओं में चीन , हांगकांग , भारत , इंडोनेशिया , मलेशिया , फिलिपीन , सिंगापुर , दक्षिण कोरिया , ताइवान और थाइलैंड शामिल हैं.रिपोर्ट में कहा गया है कि ये दस अर्थव्यवस्थाएं 2030 तक तेजी से बढ़ेंगी और इनकी सम्मिलित वास्तविक जीडीपी (2010 के डॉलर मूल्य) पर 28,350 अरब डॉलर के बराबर होगा.

ये भी पढ़ें-रुपये में 6 साल की सबसे बड़ी गिरावट, जानें फायदे और नुकसान?

इस दौरान अमेरिका का सकल घरेलू उत्पाद बढ़ कर 22,330 अरब डॉलर ही रहेगा. DBS ने कहा कि हमें उम्मीद है कि 2030 तक एशिया की दस प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं अमेरिका को पीछे छोड़ देंगी.

 
First published: August 6, 2019, 2:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...